Hindi word processor
  दाऊद के नक्सलियों से हाथ मिलाने की आशंका
स्रोतः प्रभासाक्षी
स्थानः
नई दिल्ली
तिथिः
05 Qjojh 2012
 

   

कई शीर्ष नेताओं के मारे जाने के बाद बडे़ मौके की तलाश कर रहे माओवादियों के अंडरवल्र्ड माफिया डान दाऊद इब्राहिम के साथ हाथ मिलाने की आशंका ने सुरक्षा एजेंसियों के कान खडे़ कर दिये हैं। खुफिया एजेंसियों के सूत्रों ने बताया कि दाऊद के बारे में तैयार एक ताजा दस्तावेज में कहा गया है कि नक्सलियों के दाऊद से हाथ मिलाने की आशंका बलवती है। नक्सलियों के कई बडे़ नेता हाल ही में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में मारे गयेए जिसके बाद यह संभावना बढ़ी है। श्श्यह काफी परेशान करने वाली बात है।श्श् एक खुफिया अधिकारी ने कहा कि नक्सलियों ने कई राज्यों में मजबूत नेटवर्क बना रखा है और वे खुद भी अवैध खनन एवं कोयला के कारोबार के जरिए धन कमाने में लिप्त हैं। ऐसे में यदि वे अंडरवल्र्ड माफिया के साथ हाथ मिलाते हैं तो यह काफी विकट और खतरनाक गठजोड़ होगा। उन्होंने कहा कि दाऊद की नजर केवल भारत में अवैध खनन एवं कोयला कारोबार पर ही नहीं है बल्कि खबरें हैं कि वह कजाखस्तानए अजरबैजान और ताजिकिस्तान जैसे देशों के तेल एवं खनन कारोबार में भारी निवेश की योजना बना रहा है। सूत्रों ने कहा कि इन देशों में निवेश को कानूनी रूप प्रदान करने के उद्देश्य से उसने कई कंपनियों का गठन किया हैए जिनमें से कुछ नाम ज्यूपिटर फाइनेंसए न्यू स्टार इन्वेस्टमेंट और वहाब रिसोर्सेज हैं। ये कंपनियां पाकिस्तान के कराचीए लाहौर और पेशावर से संचालित होती हैं। समझा जाता है कि दाऊद इन कंपनियों के जरिए बहामाए साइप्रसए केमैन द्वीपए बरमूडाए लक्जमबर्ग और हांगकांग जैसे कर की पनाहगाह समझे जाने वाले देशों में भारी धन जमा कर रहा है। यहां से धन दाऊद के पसंदीदा कारोबार मसलन तेल एवं खनन कारोबार में लगाया जाता है ताकि लगे कि कानूनी रूप से निवेश हो रहा है। सूत्रों ने दावा किया कि ताजा खुफिया जानकारी से यह भी पता चला है कि दाऊद कजाखस्तानए अजरबैजान और ताजिकिस्तान में लगभग दो करोड डालर निवेश की योजना बना रहा है। उन्होंने बताया कि दाऊद के बारे में जो ताजा खुफिया दस्तावेज तैयार किया गया हैए वह विभिन्न एजेंसियों से मिली जानकारी और लगातार निगरानी के बाद बनाया गया है।


समयः
14%31