अंतरराष्ट्रीय
prabhasakshi.com

 

ख़बरें:   राजनीति  |  देश-प्रदेश  |  दुनिया-जहान  |  कारोबार  |  दुनिया खेलों की  |  बॉलीवुड-हॉलीवुड  |  दिलचस्प  |  व्रत-त्योहार  |  कार्टून   स्तंभः   कुलदीप नैयर  |  स्व. खुशवंत सिंह  |  राजनाथ सिंह 'सूर्य'  |  बालेन्दु शर्मा दाधीच

यूनिकोड फॉन्ट


एजाज ने मीडिया रिपोर्टों को बताया श्श्झूठ का पुलिंदाश्श्

प्रभासाक्षी
21 फरवरी 2012    वाशिंगटन

वित्तीय अनियमितताओं के आरोपी विवादास्पद पाकिस्तानी अमेरिकी कारोबारी मंसूर एजाज ने मीडिया में उनके खिलाफ आयी रिपोर्टों को श्श्झूठ का पुलिंदाश्श् करार दिया है और कहा है कि मैमो कांड में पाकिस्तानी न्यायिक आयोग के सामने गवाही से पूर्व यह उनकी छवि खराब करने की कवायद है। अदालती दस्तावेजों तथा सार्वजनिक रूप से उपलब्ध सूचना के आधार पर पाकिस्तानी मीडिया में कई लेख प्रकाशित हुए हैं। इनमें कहा गया है कि एजाज ने कई वित्तीय भुगतान नहीं किए और ऐसे ही एक मामले में उनके खिलाफ जल्द ही कार्रवाई शुरू होने की संभावना है। इन वित्तीय लेनदेन में सबसे प्रमुख मामला 10 लाख 40 हजार डालर का है जो बेनका सैमरिनेज डी इनवेस्टमेंटो यबीएसआईद्ध से संबंधित है। पाकिस्तानी मीडिया में पिछले कुछ दिनों में उनके खिलाफ वित्तीय अनियमितताओं और चूक के आरोपों के संबंध में प्रकाशित रिपोर्टों के बारे में पूछे जाने पर एजाज ने बतायाए श्श्यह एक समाचारपत्र में प्रकाशित पूरी तरह निंदात्मक लेख है। इस समाचारपत्र ने प्रक्रिया शुरू होने के बाद से ही मेरी छवि खराब करने के लिए काम किया है।श्श् बीएसआई के अलावाए सिटीबैंक के एक मामले में भी फैसला एजाज के खिलाफ था। सार्वजनिक रूप से उपलब्ध दस्तावेजों के अनुसारए एजाज का न्यूयार्क में केवल एक अपार्टमेंट है। बताया जाता है कि एजाज पर अमेरिकन एक्सप्रेस ट्रेवल सव्िरस ने भी मुकदमा ठोका हुआ है। एजाज ने कहाए श्श्मैं इस मामले में कोई टिप्पणी नहीं करूंगा। पहली बात तो यह है कि यह सब मामले से संबंधित नहीं है और दूसरी बात कि इससे मेरी विश्वसनीयता पर कोई फर्क नहीं पड़ता है। मैंने कुछ तथ्यों का बल्कि स्वागत किया है क्योंकि अधिकतर लोगों को यह पता चल रहा है कि मेरे पास कुछ नहीं है।श्श् एजाज ने पिछले साल एक कथित मैमो को सार्वजनिक कर राजनीतिक और राजनयिक गलियारों में तूफान खड़ा कर दिया था। इसमें कहा गया था कि पिछले वर्ष मई में आतंकवादी ओसामा बिन लादेन के अमेरिकी कार्रवाई में मारे जाने के बाद संभावित तख्तापलट को टालने के लिए पाकिस्तान ने अमेरिका की मदद मांगी थी। एजाज बुधवार को लंदन में पाकिस्तानी उच्चायोग में वीडियो लिंक के जरिए पाक सुप्रीम कोर्ट की ओर से नियुक्त आयोग में अपनी गवाही रिकार्ड कराने के लिए उपस्थित होंगे।


14:27

कृति फॉन्ट


;g vkys[k d`fr QkWUV esa miyC/k ugha   


   

;g vkys[k d`fr QkWUV esa miyC/k ugha

 

Online shopping India