ब्यूटी

...यह सावधानियाँ बरतेंगी, तो दिखेंगी और खूबसूरत

...यह सावधानियाँ बरतेंगी, तो दिखेंगी और खूबसूरत

दुनिया में शायद ही कोई ऐसी महिला जो मेकअप से दूरी बनाकर रखती हो। मेकअप और महिलाओं का तो एक अटूट संबंध है। चाहे किसी पार्टी में जाना हो या शादी में या फिर वीकेंड पर यूं ही मस्ती करने का प्लान हो, बिना मेकअप के कोई भी महिला घर से बाहर निकलने की सोच भी नहीं सकती। लेकिन कई बार सुंदर दिखने की चाह में हम ऐसी छोटी−छोटी गलतियां कर देते हैं, जो हमारे सारे लुक को बिगाड़ देता है। मेकअप के जरिए आपकी सुंदरता में चार−चांद लग जाए, इसके लिए बेहद जरूरी है कि आप उसे सही ढंग से व सही ऑर्डर में ही करें। चलिए आज हम आपको बताते हैं मेकअप करने का सही तरीका−

 
मॉइश्चराइजर है मस्ट
आमतौर पर महिलाएं मेकअप की शुरूआत फाउंडेशन से करती हैं। लेकिन ड्राई स्किन पर जब फाउंडेशन लगाया जाता है तो इससे स्किन फटी−फटी नजर आने लगती है व मेकअप भी अजीब दिखता है। इसलिए जब भी मेकअप की शुरूआत करें तो सबसे पहले अपना फेस वॉश करके उसे मॉइश्चराइज करें। यदि आप किसी ऐसी जगह जा रही हैं, जहां आपको लंबे समय तक रहना है और अपने लुक को डल भी नहीं होने देना चाहतीं तो इसके लिए आपको प्राइमर का सहारा लेना पड़ेगा।
 
बदलें अपना तरीका
वैसे तो माना जाता है कि मेकअप के शुरूआती दौर में पहले फांउडेशन लगाकर बाद में आई मेकअप किया जाना चाहिए। अगर आप भी अब तक ऐसा ही कर रही थीं तो एक बार जरा अपना तरीका बदलकर देखिए। अक्सर देखने में आता है कि आई मेकअप के दौरान कई बार आईशेड्स नीचे गिर जाते हैं या फिर लाइनर व मस्कारा फैल कर आंखों के नीचे गिर जाता है, फिर उसे हमें क्लींजर से साफ करके दोबारा फाउंडेशन लगाना पड़ता है। ऐसा करने से चेहरे का बेस आंखों के नीचे से अलग−अलग लगता है। इसलिए बेहतर होगा कि आप सबसे पहले अपना आई मेकअप कंप्लीट करें, फिर ही फाउंडेशन लगाएं। इससे फाउंडेशन आपके चेहरे पर एकसमान रूप से लगेगा। फाउंडेशन बाद में लगाने का दूसरा सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि आप सबसे पहले जो मॉइश्चराइजर और प्राइमर लगाते हैं, उसे स्किन में ऑबजर्ब होने का टाइम मिल जाता है तथा आपकी स्किन भी नरिश हो जाती है। जिससे बाद में लगाए गए फाउंडेशन का लुक अलग ही आता है। चूंकि अब गर्मियों का मौसम है, इसलिए फाउंडेशन लगाने के बाद आप कॉम्पैक्ट लगाना बिल्कुल भी न भूलें। यह आपके फेस को एक फिनिश लुक देने के लिए बेहद आवश्यक है।
 
लिपस्टिक पर दें ध्यान
आईमेकअप के बाद बारी आती है लिपस्टिक की। लेकिन लिपस्टिक से पहले ब्लशर का इस्तेमाल करें। आप जब भी लिप लाइनर लगाएं तो हमेशा एक बात याद रखें कि लिप लाइनर आपकी लिपस्टिक के कलर से मैच करता हुआ होना चाहिए। अलग−अलग कलर्स की लिपस्टिक व लिप लाइनर आजकल चलन में नहीं है। लिपस्टिक के रंग के लिपलाइनर से आपके होंठों को नया आकार तो मिलेगा ही, साथ ही आपकी लिपस्टिक की स्टेइंग पावर भी बढ़ जाएगी। यदि आप अपनी लिपस्टिक को चौबीस घंटों या उससे अधिक देर तक टिकाना चाहती हैं तो उसके लिए सबसे पहले लिपलाइनर से आउटलाइन बनाने के बाद उसी लिप लाइनर से अपने होठों को फिल करें। बाद में लिपस्टिक का इस्तेमाल करें। इससे आपकी लिपस्टिक काफी देर तक टिकी रहेगी।
 
बैक का भी रखें ख्याल
मेकअप के दौरान महिलाएं अक्सर कुछ भूल करती हैं जो उनकी खूबसूरती को दागदार कर देता है। इसलिए बेहतर होगा कि आप उन गलतियों से बचें। सबसे पहले तो मेकअप के दौरान सिर्फ अपने फेस का ही ध्यान न रखें, बल्कि गर्दन व बैक पर ध्यान देना भी बेहद जरूरी है। यदि आप साड़ी विद डीप ब्लाउज पहन रही हैं तो अपनी बैक की सुंदरता का भी ध्यान रखें। इसके लिए वहां पर फाउंडेशन इस्तेमाल किया जा सकता है। साथ ही हमेशा मेकअप करते समय अपनी गर्दन पर भी फाउंडेशन व मॉइश्चराइजर लगाना बिल्कुल भी न भूलें, अन्यथा आपका चेहरा व गर्दन अलग−अलग नजर आएंगे।
 
मेकअप आर्टिस्ट व ब्यूटी एक्सपर्ट नैना अरोड़ा से बातचीत पर आधारित

खबरें