Prabhasakshi Logo
बुधवार, अगस्त 23 2017 | समय 21:12 Hrs(IST)
ब्रेकिंग न्यूज़
Ticker Imageदो हजार रुपये के नोट पर प्रतिबंध लगाने का विचार नहीं: जेटलीTicker Imageबैंकों के एकीकरण के लिए वैकल्पिक व्यवस्था बनाएगी सरकारTicker Imageराणे को शामिल करने से पहले उनका रिकॉर्ड पढ़ ले भाजपाः शिवसेनाTicker Imageओबीसी में क्रीमी लेयर की वार्षिक आय सीमा 8 लाख रुपये की गयीTicker Imageभ्रष्टाचार मामले में विजयन को आरोपमुक्त किये जाने का फैसला बरकरारTicker Imageडेरा प्रमुख के खिलाफ फैसला आने से पहले पंजाब और हरियाणा में अलर्टTicker Imageरूपा ने कहा, जेल के नजदीक विधायक के घर गयी थी शशिकलाTicker Imageरिजर्व बैंक 200 रुपये का नोट जारी करेगा: वित्त मंत्रालय

उद्योग जगत

जीएसटी सरल होगा, कम बोझवाला होगा: राजस्व सचिव

By admin@PrabhaSakshi.com | Publish Date: Jan 11 2017 12:40PM
जीएसटी सरल होगा, कम बोझवाला होगा: राजस्व सचिव

गांधीनगर। केंद्रीय राजस्व सचिव हसमुख अधिया ने आज कहा कि प्रस्तावित नयी अप्रत्यक्ष कर प्रणाली वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) से कर व्यवस्था सरल और हल्के बोझ वाली होगी। इसमें केवल एक दर होगी और कर का भुगतान डेबिट-क्रेडिट कार्ड या चेक से किया जा सकेगा। अधिया ने यहां वाइब्रेंट गुजरात सम्मेलन में कहा कि व्यापारियों और उद्यमियों के लिए जीएसटी व्यवस्था में संसाधनों पर चुकाए गए कर को अपनी देनदारी में समायोजित कराना अधिक आसान होगा। इससे पूरे देश पर कर अनुपालन का बोझ हल्का होगा तथा पूरा देश एक साझा बाजार बन जाएगा।

 
अधिया ने कहा, ‘जीएसटी पर चलना बहुत ही आसान होगा। आप सबसे लिए यह बहुत ही सरल होगा। सीमाओं (राज्यों) की कोई बाधा नहीं होगी और आप एक जगह से दूसरी जगह सामान आसानी से पहुंचा सकेंगे। तमाम छोटे छोटे कर खत्म हो जाएंगे। केवल एक एकीकृत कर लागू होगा।’
 
गौरतलब है कि सरकार ने 1 अप्रैल 2017 से जीएसटी लागू करने का लक्ष्य रखा है पर अधिकार सम्पन्न जीएसटी परिषद में राज्यों के साथ कुछ मसलों पर सहमति न बन पाने से यह समय सीमा मुश्किल लग रही है। इनमें करदाताओं की जांच के अधिकार का मसला भी शामिल है।