Prabhasakshi Logo
मंगलवार, जुलाई 25 2017 | समय 20:26 Hrs(IST)
ब्रेकिंग न्यूज़
Ticker Imageकांग्रेस के भारी हंगामे के कारण लोकसभा में गतिरोध कायमTicker Imageराजस्थान के जालोर, सिरोही में बाढ़ हालत में सुधार नहींTicker Imageदिल्ली-एनसीआर में टमाटर की कीमत 100 रुपये प्रति किलोTicker Imageमोदी ने कोविंद को राष्ट्रपति पद की शपथ लेने पर दी बधाईTicker Imageप्रसिद्ध वैज्ञानिक और शिक्षाविद प्रो. यश पाल का निधनTicker Imageदेश की सफलता का मंत्र उसकी विविधताः राष्ट्रपतिTicker Imageसीरियाई विद्रोहियों को सहायता देना फिजूलखर्च था: ट्रंपTicker Imageश्रीनगर-मुजफ्फराबाद मार्ग पर एलओसी पार व्यापार पर लगी रोक

लेख

सकारात्मक रुख से जीवन की हर मुश्किल होती है आसान

By मिताली जैन | Publish Date: Dec 22 2016 12:45PM
सकारात्मक रुख से जीवन की हर मुश्किल होती है आसान

'जीवन चलने का नाम, चलते रहो सुबह−शाम' एक हिन्दी फिल्म का यह मशहूर गीत जीवन के प्रवाह की ओर इशारा करता है। जीवन की इस अविरल धारा में हमेशा कुछ न कुछ उतार−चढ़ाव आते रहते हैं। जब स्थितियां हमारे लिए अनुकूल होती हैं, तो मनुष्य बहुत खुश होता है। लेकिन जब जीवन में मुश्किलें आती हैं तो मनुष्य सकारात्मकता का दामन छोड़कर नकारात्मक विचारों को अपनाने लगता है। परंतु यह बेहद आवश्यक है कि आप मुश्किल वक्त में भी हमेशा सकारात्मक बने रहें। तो आईए जानते हैं मुश्किल समय में सकारात्मक बने रहने के कुछ तरीकों के बारे में−

खुद से करें सवाल
अमूमन यह देखने में आता है कि जब किसी का बुरा दौर होता है तो वह यही सोचता है कि उसने क्या खोया है। लेकिन अगर आप खुद को सकारात्मक बनाना चाहते हैं तो सबसे पहले अपने सोचने के तरीकों को बदलें। क्योंकि आपको दुनिया वैसे ही नजर आएगी, जैसा कि आप उसे देखना चाहते हैं। पानी का आधा गिलास आपको आधा भरा हुआ दिखाई देता है या खाली, यह तो आपके दृष्टिकोण पर निर्भर करता है। इसलिए यह न सोचें कि आपने क्या खोया है, बल्कि यह सोचें कि आपके पास क्या है। साथ ही खुद से यह भी पूछें कि जो आपने खोया है, क्या वह इतना महत्वपूर्ण है कि उसके कारण आपके पास जो कुछ भी है, वह भी आप खो देंगे। अगर आप शांत दिमाग से जब खुद का आकलन करेंगे तो नकारात्मकता आपके पास कभी नहीं फटकेगी।
 
करें भविष्यवाणी
वैसे ऐसा करना आपके लिए थोड़ा मुश्किल हो सकता है लेकिन अगर आपने यह कर लिया तो आपकी सारी परेशानी खुद−ब−खुद खत्म हो जाएगी। आप जिस मुश्किल में फंसे हैं, सोचिए उससे क्या हो सकता है। परिणाम की भविष्यवाणी करने के बाद आप उस मुश्किल के तीन हल भी निकालें। जब आप ऐसा करने में सक्षम हो जाएंगे तो यकीन मानिए कि आपके मन में किसी भी प्रकार का नकारात्मक भाव नहीं आएगा।
 
खुद को करें तैयार
अब जब आपने परिस्थितियों का आकलन कर लिया है तो खुद को इस तरह तैयार करें कि कोई भी परिस्थिति आपको प्रभावित न कर पाए। आप खुद से पूछें कि आप खुद को पांच साल बाद कहां देखना चाहते हैं, जब आप यह जान जाएं तो अपने सपनों को पूरा करने के लिए पूरी मेहनत करें। आपका कठिन परिश्रम हर नकारात्मक स्थिति को सकारात्मकता में बदल देगा।
 
अपनाएं कुछ तरीके
खुद को सकारात्मक बनाए रखने के लिए आप कुछ अलग व कारगर तरीके भी अपना सकते हैं। मसलन, अगर मुश्किल वक्त में आपके मन में नकारात्मक भाव आते हैं तो बेहतर होगा कि आप अपने किसी करीबी को फोन करें और उससे अपने मन की बात शेयर करें। इससे आपको काफी राहत महसूस होगी। साथ ही आप चाहें तो खुद को बिजी रखने के लिए कुछ नई हॉबी भी क्रिएट कर सकते हैं। नई जगह व नए लोगों के साथ से आपको काफी अच्छा लगेगा। इसके अतिरिक्त आप चाहें तो वीकेंड या मूवी प्लॉन कर सकते हैं। इससे भी आपको काफी रिफ्रेश फील होगा।
 
मिताली जैन