Prabhasakshi
शुक्रवार, जनवरी 19 2018 | समय 05:23 Hrs(IST)

विशेषज्ञ राय

निवेश के जरिये इस तरह कम कर सकते हैं इनकम टैक्स का भार

By admin@PrabhaSakshi.com | Publish Date: Dec 27 2017 2:53PM
निवेश के जरिये इस तरह कम कर सकते हैं इनकम टैक्स का भार

पाठकों के प्रश्नों का उत्तर दे रहे हैं द्वारिकेश शुगर इंडस्ट्रीज लिमिटेड के पूर्णकालिक निदेशक व कंपनी सचिव श्री बी.जे. माहेश्वरी जी। श्री माहेश्वरी पिछले 33 वर्षों से कंपनी कानून मामलों, कर (प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष) आदि मामलों को देखते रहे हैं। यदि आपके मन में भी आर्थिक विषयों से जुड़े प्रश्न हों तो उन्हें edit@prabhasakshi.com पर भेज सकते हैं। प्रभासाक्षी के लोकप्रय कॉलम 'आर्थिक विशेषज्ञ की सलाह' में इस सप्ताह जानिये क्रेडिट कार्ड, बिटकॉइन, शेयर बाजार, पीपीएफ, महंगाई के आंकड़े, सर्विस वारंटी, क्रेडिट फंड और म्युचुअल फंड संबंधी पाठकों के प्रश्नों के उत्तर।

प्रश्न-1 अगर क्रेडिट कार्ड की पूरी लिमिट उपयोग कर ली गयी हो तो क्या सिबिल का स्कोर कम हो जाता है?
 
उत्तर- नहीं, यह सच नहीं है। सिबिल स्कोर का क्रेडिट कार्ड लिमिट उपयोग से कोई लेना-देना नहीं है यह देय राशि के समय पर भुगतान आदि पर आश्रित है।
 
प्रश्न-2. मैंने सुना है कि बिटकॉइन में निवेश में ज्यादा फायदे हैं इसके लिए कहाँ संपर्क करना होगा और इसमें कम से कम कितना पैसा लगाया जाता है?
 
उत्तर- बिटकॉइन मान्य कानूनी मुद्रा नहीं है। इसे आरबीआई द्वारा मान्यता प्राप्त नहीं है। हमारा सुझाव है कि आपको इस तरह की मुद्रा में सौदा नहीं करना चाहिए।
 
प्रश्न-3. क्या शेयर बाजार में ट्रेडिंग नहीं करने पर अकाउंट लॉक हो जाता है? लॉक अकाउंट को खुलवाने के लिए क्या करना होगा?
 
उत्तर- हां, यह काफी संभव है कि इस तरह के मामले में आपका ट्रेडिंग खाता लॉक किया जा सकता है। ऐसी स्थिति में, आपको अपने ब्रोकर या एजेंसी से संपर्क करने की आवश्यकता है, केवाईसी और ऐसे अन्य दस्तावेज जमा करें, जो खाते को सक्रिय करने के लिए आवश्यक हो सकता है।
 
प्रश्न-4. सरकार महंगाई के आंकड़े कैसे निकालती है?
 
उत्तर- महंगाई मुद्रास्फीति थोक मूल्य सूचकांक (डब्लूपीआई) और उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (सीपीआई) द्वारा मापा जाता है। थोक मूल्य सूचकांक की गणना के लिए विचाराधीन विभिन्न वस्तुओं को ईंधन, बिजली और विनिर्मित वस्तुओं में वर्गीकृत किया जा सकता है। थोक मूल्य सूचकांक की गणना में खाद्य पदार्थ और खनिज शमिल हैं। 
 
प्रश्न-5. अगर किसी चीज का बिल खो गया है तो क्या सर्विस वारंटी नहीं मिलेगी?
 
उत्तर- हां, ऐसे मामलों में वारंटी प्राप्त करना मुश्किल होगा, जब तक कि आप उनके साथ ऑनलाइन पंजीकृत न हों।
 
प्रश्न-6. क्या कोई बैंक ऑनलाइन पीपीएफ अकाउंट खुलवाने की सुविधा देता है?
 
उत्तर- नहीं, हमारी राय के अनुसार, आप ऑनलाइन पीपीएफ खात नहीं खोल सकते।
 
प्रश्न-7. क्रेडिट फंड क्या होता है इसमें कैसे निवेश किया जा सकता है?
 
उत्तर- 'क्रेडिट फंड' निश्चित आय प्रतिभूतियों में निवेश करते हैं। जो अक्सर एक कंपनी के प्रबंधन में भाग लेने के लिए स्वामित्व हिस्सेदारी का उपयोग करने से जुड़ा होता है। आप इन फंडों में किसी अन्य म्युचुअल फंड की तरह निवेश कर सकते हैं।
 
प्रश्न-8. क्या म्युचुअल फंड में कोई तय मासिक आय वाला विकल्प भी होता है?
 
उत्तर- फिक्सड मैच्योरिटी प्लान (एफएमपी) डेट योजनाएं हैं, जहां निश्चित आय सिक्योरिटीज में कॉर्पस का निवेश किया जाता है। इसके अलावा मासिक आय वाले विकल्प भी हैं। आपको म्युचुअल फंड कंपनियों की वेबसाइट पर ज्यादा विवरण मिल सकेगा।
 
प्रश्न-9. निवेश के जरिये आयकर का भार कैसे कम किया जा सकता है? मैंने 80 C वाले विकल्पों में तो निवेश कर ही रखा है?
 
उत्तर- आप राष्ट्रीय पेंशन योजना ले सकते हैं इसके अलावा म्युचुअल फंड में निवेश करें, जहां कई योजनाओं में लाभांश आयकर मुक्त है।
 
प्रश्न-10. हेल्थ इंश्योरेंस में कितनी सीमा तक आयकर में छूट मिलती है?
 
उत्तर- आयकर अधिनियम के तहत 80 D में, आप अधिकतम 5000 रुपए तक की कर कटौती स्वास्थ्य जांच के लिए कर सकते हैं जो 60,000 रुपए की कुल सीमा के भीतर होनी चाहिए।
 
नोटः कर से जुड़े हर मामले चूँकि भिन्न प्रकार के होते हैं इसलिए संभव है यहाँ दी गयी जानकारी आपके मामले में सटीक नहीं हो इसलिए अपने विशेषज्ञ की सलाह भी ले लें।