1. मल्टीविटामिन गोलियां बिना डॉक्टरी परामर्श के नहीं लें

    मल्टीविटामिन गोलियां बिना डॉक्टरी परामर्श के नहीं लें

    अपने आप को चुस्त-दुरूस्त, ऊर्जा से भरपूर और खूबसूरत दिखने के लिए युवा मल्टीविटामिन पर भरोसा करने लगे हैं। इन दवाइयों का शरीर पर क्या असर होगा, इस बात की किसी को चिंता नहीं है।

  2. मासिक धर्म संबंधी कष्ट दूर करती हैं अशोक की कलियां

    मासिक धर्म संबंधी कष्ट दूर करती हैं अशोक की कलियां

    यदि कोई स्त्री स्नान के उपरांत अशोक की आठ नई कलियों का सेवन करे तो मासिक धर्म संबंधी कष्ट नहीं होता। इससे बांझपन भी मिटता है। साथ ही अशोक के फूल दही के साथ नियमित रूप से सेवन करते रहने से भी गर्भ स्थापित होता है।

  3. कानों में एक से ज्यादा बालियां पहनना पड़ सकता है भारी

    कानों में एक से ज्यादा बालियां पहनना पड़ सकता है भारी

    कान हमारी महत्वपूर्ण ज्ञानेन्द्री है जिसकी सुन्दरता उसके साफ रहने और सुनने की क्षमता बने रहने में है न कि अनेक छेदों में पहने गए आभूषणों से। उम्र बढ़ने के साथ साथ यह छेद बड़े होते जाते हैं जोकि बुरे लगते हैं।

  4. नीम एक अच्छा गर्भनिरोधक भी माना जाता है

    नीम एक अच्छा गर्भनिरोधक भी माना जाता है

    वैज्ञानिकों के अनुसार नीम दुर्गन्धनाशक, वातहर तथा शीतपित्त, कुष्ठ तथा पायरिया जैसे रोगों में बहुत लाभकारी होता है। नीम एक अच्छा गर्भनिरोधक भी माना जाता है।

  5. इधर आपका दिल धड़का, उधर हेल्थ रिकार्ड की फाइल खुली

    इधर आपका दिल धड़का, उधर हेल्थ रिकार्ड की फाइल खुली

    हेल्थ रिकार्ड की मोटी मोटी फाइलों को संभाल कर रखना अपने आप में कोई कम सिरदर्दी का काम नहीं है लेकिन अब जल्द ही आपके इलैक्ट्रोनिक हेल्थ रिकार्ड का ऐसा पासवर्ड मिलने जा रहा है जिसे आपको याद करने की जरूरत नहीं होगी।

  6. दूध से करें मालिश त्वचा का रंग काफी निखर जाएगा

    दूध से करें मालिश त्वचा का रंग काफी निखर जाएगा

    मालिश में दूध का प्रयोग भी गुणकारी माना जाता है। दूध से पूरे शरीर की मालिश खूब रगड़कर इस प्रकार की जाती है कि मैल की परतें जमीन पर गिरने लगती हैं। दूध के प्रयोग से त्वचा का रंग काफी निखर आता है।

  7. शरीर को हल्का-फुल्का रखने के लिए करें नृत्य का अभ्यास

    शरीर को हल्का-फुल्का रखने के लिए करें नृत्य का अभ्यास

    पश्चिमी देशों में लोग शरीर को हल्का−फुल्का बनाए रखने के लिए कई−कई घंटों नृत्य का अभ्यास करते हैं। शरीर को छरहरा बनाए रखने की यह पद्धति भूतपूर्व सोवियत संघ के गणराज्यों में बहुत ही प्रसिद्ध है।

  8. बढ़ती उम्र से संबंधित बीमारियों को दूर भगाता है मेडिटेशन

    बढ़ती उम्र से संबंधित बीमारियों को दूर भगाता है मेडिटेशन

    वर्तमान युग की जीवनशैली को देखते हुए कम उम्र में ही ढेरों बीमारियां भी मनुष्य के शरीर को अपना घर बना लेती हैं। इन सब परेशानियों से निजात पाने के लिए मेडिटेशन कर सकते हैं।

  9. डैंड्रफ और बालों के झड़ने से निजात दिलाएगी मुल्तानी मिट्टी

    डैंड्रफ और बालों के झड़ने से निजात दिलाएगी मुल्तानी मिट्टी

    मुल्तानी मिट्टी की मदद से आप अपने बालों के टूटने, झड़ने से लेकर डैंड्रफ व डैमेज सब कुछ आसानी से ठीक कर सकते हैं। तो आईए जानते हैं मुल्तानी मिट्टी से बने बालों के लिए लाभकारी कुछ हेयर पैक्स के बारे में।

  10. प्राणिक चेतना को ऊपर की ओर ले जाने वाला प्राणायाम

    प्राणिक चेतना को ऊपर की ओर ले जाने वाला प्राणायाम

    यह प्राणायाम प्राणिक चेतना को ऊपर की ओर जाने की दिशा देकर जीवन को सफलता की ओर बढ़ाता है। इस प्राणायाम को अतीन्द्रयि श्वसन के नाम से भी जाना जाता है।

  11. शरीर में विटामिन डी की कमी का संकेत देने वाले लक्षण

    शरीर में विटामिन डी की कमी का संकेत देने वाले लक्षण

    वैसे तो इसका पता लगाना काफी मुश्किल होता है, लेकिन हमारा शरीर कुछ ऐसे संकेत देता है, जिससे आप अपने शरीर में विटामिन डी की कमी के बारे में जान सकते हैं।

  12. फास्ट फूड छोड़कर अंकुरित अनाज खाएं, लाभ जल्द दिखेगा

    फास्ट फूड छोड़कर अंकुरित अनाज खाएं, लाभ जल्द दिखेगा

    अंकुरित बीजों को कच्चा ही खाना चाहिए क्योंकि पकाने से उनके पोषक तत्व नष्ट हो जाते हैं। इन बीजों का स्वाद कुछ कसैला होता है इसलिए उनमें नमक, टमाटर, खीरा, नींबू आदि डाला जा सकता है, इससे उनका स्वाद बढ़ जाता है।

वीडियो