कहानी/कविता

सर्वज्ञानी (पंजाबी कहानी)

सर्वज्ञानी (पंजाबी कहानी)

गुलमर्ग, कुकड़नारा, पहिलगाम, सोनमर्ग, आदि सभी स्थान हम घूम चुके थे, अब तो अंतिम दो दिनों के लिए हम श्रीनगर के एक होटल में रुके हुए थे। सीटें आरक्षित करवा चुके थे। और परसों हमें चले जाना था।

लेख

हिंदी के प्रथम सेनापति के रूप में भी विख्यात हैं महर्षि दयानंद सरस्वती

हिंदी के प्रथम सेनापति के रूप में भी विख्यात हैं महर्षि दयानंद सरस्वती

हिमालय से कन्याकुमारी और कलकत्ता से लेकर बंबई तक भारत की जनता हिंदी समझती और बोलती भी थी लेकिन उसका नेतृत्व करने वाला कोई महापुरूष उस समय नहीं था। स्वामी जी ने यह गरिमामय नेतृत्व कदाचित सबसे पहले प्रदान किया।

वीडियो