Prabhasakshi Logo
रविवार, अगस्त 20 2017 | समय 05:48 Hrs(IST)
ब्रेकिंग न्यूज़
Ticker Imageशरद यादव अपने बारे में निर्णय लेने के लिए स्वतंत्रः नीतीशTicker Imageएनडीए का हिस्सा बना जदयू, अमित शाह ने किया स्वागतTicker Imageमुजफ्फरनगर के पास पटरी से उतरी उत्कल एक्सप्रेस, 6 मरे, 50 घायलTicker Imageटैरर फंडिंगः कश्मीरी कारोबारी को एनआईए हिरासत में भेजा गयाTicker Imageमहाराष्ट्र के सरकारी विभागों में भर्ती के लिए होगा पोर्टल का शुभारंभTicker Imageकॉल ड्रॉप को लेकर ट्राई सख्त, 10 लाख तक का जुर्माना लगेगाTicker Imageआरोपों से व्यथित, उचित समय पर जवाब दूंगा: नारायणमूर्तिTicker Imageबोर्ड ने सिक्का के इस्तीफे के लिए नारायणमूर्ति को जिम्मेदार ठहराया

राष्ट्रीय

जल्लीकट्टू का आयोजन सुनिश्चित करेंगे: पनीरसेल्वम

By admin@PrabhaSakshi.com | Publish Date: Jan 11 2017 5:26PM
जल्लीकट्टू का आयोजन सुनिश्चित करेंगे: पनीरसेल्वम

चेन्नई। जल्लीकट्टू के आयोजन की मांग को लेकर विभिन्न हलकों से उठ रही आवाजों के बीच तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ओ पनीरसेल्वम ने आज सांड को काबू में करने के इस खेल के आयोजन को लेकर अपनी सरकार की प्रतिबद्धता दोहराते हुए कहा कि वह इस मुद्दे पर पीछे नहीं हटेगी। इस मुद्दों पर अन्नाद्रमुक की आलोचना को लेकर उन्होंने चिर-प्रतिद्वंद्वी द्रमुक पर जोरदार हमला बोला। पनीरसेल्वम ने कहा कि संप्रग सरकार के समय जारी अधिसूचना में सांड को करतब दिखाने वाले जानवरों की श्रेणी में शामिल किया गया था, जिसके बाद खेलों में इसके इस्तेमाल पर रोक लग गयी।

 
उन्होंने आरोप लगाया कि तब द्रमुक तत्कालीन सरकार की अहम सहयोगी थी। मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार उनकी पूर्ववर्ती दिवंगत नेता जयललिता के दिखाये रास्ते पर आगे बढ़ रही है, जिन्होंने कावेरी विवाद और खुदरा क्षेत्र में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश जैसे मुद्दों पर तमिलनाडु के अधिकारों की लड़ाई को आगे बढ़ाया। उन्होंने कहा, ‘‘मैं और तमिलनाडु सरकार अम्मा (जयललिता) के पद चिन्हों का अनुसरण करते हैं और हम जल्लीकट्टू का आयोजन सुनिश्चित करेंगे। हम इस मुद्दे से थोड़ा भी पीछे नहीं हटेंगे। मैं तमिलनाडु के लोगों को आश्वस्त करना चाहता हूं कि हम तमिलों की विरासत और संस्कृति को बरकरार रखेंगे।’'