Prabhasakshi Logo
शुक्रवार, जुलाई 28 2017 | समय 08:12 Hrs(IST)
ब्रेकिंग न्यूज़
Ticker Imageलालू यादव ने कहा- नीतीश कुमार तो भस्मासुर निकलेTicker Imageबिहार में जो हुआ वो लोकतंत्र के लिये शुभ संकेत नहीं: मायावतीTicker Imageलोकसभा में राहुल गांधी ने आडवाणी के पास जाकर बातचीत कीTicker Imageप्रधानमंत्री ने रामेश्वरम में कलाम स्मारक का उद्घाटन कियाTicker Imageकेंद्र ने SC से कहा- निजता का अधिकार मूलभूत अधिकार नहींTicker Imageसंसद के दोनों सदनों में भाजपा का समर्थन करेंगे: जद (यू)Ticker Imageकर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री एन धरम सिंह का निधनTicker Imageसरकार गौ रक्षकों के मसले पर चर्चा कराने को तैयार: अनंत

राष्ट्रीय

कमलजीत सहरावत दक्षिण दिल्ली की मेयर निर्वाचित

By admin@PrabhaSakshi.com | Publish Date: May 19 2017 4:20PM
कमलजीत सहरावत दक्षिण दिल्ली की मेयर निर्वाचित

निगम चुनावों में रिकॉर्ड मतों के अंतर से जीतने वाली भाजपा की पार्षद कमलजीत सहरावत को आज दक्षिण दिल्ली नगर निगम का निर्विरोध मेयर चुना गया। क्षेत्र के नगर निकाय की नई टीम ने भी कार्यभार संभाल लिया है। कैलाश संकला को भी निर्विरोध उप मेयर चुन लिया गया क्योंकि दोनों ही पदों के लिए किसी भी अन्य पार्टी ने नामांकन दायर नहीं किया था। बीते महीने की 23 तारीख को हुए दिल्ली नगर निगम चुनाव में कमलजीत द्वारका बी वॉर्ड से विजय हुईं थीं जबकि संकला पंजाबी बाग से जीते थे।

 
कमलजीत ने आप की सुषमा बंसल को रिकॉर्ड 9,866 मतों से शिकस्त दी थी जो समूचे चुनाव में सबसे ज्यादा अंतर है। कमलजीत को 14,613 वोट मिले थे जबकि सुषमा को महज 4,747 मत ही मिल सके थे। मेयर के पद का कार्यकाल एक वर्ष का होता है और प्रत्येक साल मेयर बदलता है। यह पद प्रथम वर्ष में महिलाओं के लिए आरक्षित है जबकि दूसरा कार्यकाल अनारक्षित होता है जबकि तीसरा वर्ष फिर से आरक्षित होता है लेकिन अंत के दो साल अनारक्षित होते हैं। नया सदन के निर्वाचन से वर्ष का हिसाब शुरू होता है। दक्षिण दिल्ली नगर निगम की स्थायी समिति के सदस्यों का भी चुनाव हो गया। भाजपा की ओर से भूपेंद्र गुप्ता का चुनाव अध्यक्ष पद के लिए हुआ, जबकि शिखा रानी, नंदनी शर्मा और तुलसी जोशी का भी निर्वाचन हुआ है। पूर्वा ने अपना नामांकन वापस ले लिया। एंड्रयूज गंज से कांग्रेस के पार्षद अभिषेक दत्त और हस्तसाल वार्ड से आप के पार्षद अशोक कुमार का भी निर्वाचन हुआ है। एसडीएमसी में 104 वार्ड हैं जिसमें से 70 भाजपा ने, 16 आप ने और 12 कांग्रेस ने जीते थे, जबकि एक-एक वार्ड सपा और आईएनएलडी ने जीता है। इसके अलावा चार निर्दलीयों ने भी जीत दर्ज की है।