खेल

ओलंपिक प्रदर्शन से महानता नहीं आंकी जा सकती: आडवाणी

ओलंपिक प्रदर्शन से महानता नहीं आंकी जा सकती: आडवाणी

मुंबई। दिग्गज क्यू खिलाड़ी पंकज आडवाणी का मानना है कि एक खिलाड़ी का महानता का आकलन सिर्फ ओलंपिक जैसी चार साल में होने वाली प्रतियोगिताओं में प्रदर्शन के आधार पर नहीं किया जा सकता। जब यह पूछा गया कि स्नूकर और बिलियर्डस के ओलंपिक का हिस्सा नहीं होने से क्या वह हताश हैं, आडवाणी ने कहा, ‘‘हम खेल में महानता का आकलन चार साल में प्रदर्शन के आधार पर करते हैं जिसे समझने में मुझे दिक्कत होती है और मुझे लगता है कि इसे बदलने की जरूरत है।’’ 

सोलह बार के विश्व बिलियर्डस एवं स्नूकर चैम्पियन आडवाणी ने कहा, ‘‘एक खेल ओलंपिक में शामिल नहीं है सिर्फ इसलिए, हमारा खेल ओलंपिक में शामिल नहीं है सिर्फ इसलिए, इसका मतलब यह नहीं कि हम अन्य से कम कड़ी मेहनत कर रहे हैं।’’ टाइम्स आफ इंडिया स्पोर्ट्स पुरस्कार के आयोजन से पहले आडवाणी ने कहा, ‘‘खेल ओलंपिक का हिस्सा है या नहीं, इसमें कौशल, कड़ी मेहनत, मानसिक दृढ़ता की जरूरत पड़ती है।''

खबरें

वीडियो