1. ब्रेड को जैम से खाते खाते बोर हो गये? जानें कुछ नए तरीके

    ब्रेड को जैम से खाते खाते बोर हो गये? जानें कुछ नए तरीके

    जब भी सुबह के नाश्ते की बात होती है तो अक्सर घरों में ब्रेड, मक्खन व जैम का इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन हर रोज ब्रेड को जैम या मक्खन के साथ खाने के लिए तैयार नहीं होता।

  2. रात की सब्जी से बनाएं लज़ीज़ परांठे, कटलेट व रोल्स

    रात की सब्जी से बनाएं लज़ीज़ परांठे, कटलेट व रोल्स

    सिर्फ खाने का स्वाद ही नहीं, बल्कि उसका प्रेजेंटेशन भी लोगों को आकर्षित करता है। तो आईए जानते हैं रात की बची हुई सब्जियों को नए तरीके से पेश करने की कुछ अद्भुत रेसिपी के बारे में।

  3. महिलाओं के लिए आर्थिक आत्मनिर्भरता बेहद जरूरी

    महिलाओं के लिए आर्थिक आत्मनिर्भरता बेहद जरूरी

    महिला सशक्तिकरण तभी संभव है जब आत्म निर्भरता और आर्थिक आत्मा निर्भरता भी हो। महिलाओं को जरूरत है अपने अस्तित्व को पहचानने की और इसको बनाये रखने की और एक कदम बढ़ाने की।

  4. फर्नीचर पर लगे दाग हटाने हैं तो आजमाएं ये नुस्खे

    फर्नीचर पर लगे दाग हटाने हैं तो आजमाएं ये नुस्खे

    अगर आप चाहती हैं कि आपके फर्नीचर की खूबसूरती यूं ही बरकरार रहे तो इसके लिए आप हार्ड वर्क नहीं बल्कि थोड़ा स्मार्ट वर्क करें। आइए जानते हैं दाग हटाने के कुछ नुस्खे।

  5. रात की बची हुई दाल से इस तरह बनाएं स्वादिष्ट परांठे

    रात की बची हुई दाल से इस तरह बनाएं स्वादिष्ट परांठे

    अगर आप चाहें तो रात की बची हुई दाल को भी घरवालों के समक्ष कुछ इस तरह से पेश कर सकती हैं कि वे उंगलियां चाटते रह जाएंगे और उन्हें पता भी नहीं चलेगा कि उन्होंने रात की बची हुई दाल खाई है।

  6. पति-पत्नी को बांधे रखने में मददगार है विश्वास रूपी धागा

    पति-पत्नी को बांधे रखने में मददगार है विश्वास रूपी धागा

    जब दो लोग एक−दूसरे के साथ मिलकर अपना संसार बसाते हैं तो विश्वास रूपी धागा ही उनके रिश्ते की डोर को बांधे रखता है और उस डोर को मजबूती देने का काम करता है सपोर्ट।

  7. दीपावली से शुरू हुई पर्वों की धूम छठ तक चलती है

    दीपावली से शुरू हुई पर्वों की धूम छठ तक चलती है

    हिंदुओं के सबसे बड़े पर्व दीपावली को पर्वों की माला माना जाता है। पांच दिन तक चलने वाला ये पर्व सिर्फ भैयादूज तक ही सीमित नही है। बल्कि यह पर्व छठ पर्व तक चलता है।

  8. पूजन ही नहीं स्वच्छता व प्रकाश का पर्व भी है दीपावली

    पूजन ही नहीं स्वच्छता व प्रकाश का पर्व भी है दीपावली

    दीपावली स्वच्छता व प्रकाश का पर्व है। लोग कई दिनों पहले से ही दीपावली की तैयारियाँ आरंभ कर देते हैं, और सब अपने घरों, प्रतिष्ठानों आदि की सफाई का कार्य आरंभ कर देते हैं।

  9. रात के बचे चावलों से बना सकते हैं बहुत कुछ

    रात के बचे चावलों से बना सकते हैं बहुत कुछ

    अक्सर घरों में चावल बच जाते हैं और आप सुबह सोचते हैं कि इसके साथ नया क्या बनाया जाए। जब भी बचे हुए चावलों की बात होती है तो दिमाग में सिर्फ फ्राइड राइस का ही ख्याल आता है।

  10. अखण्ड सौभाग्य प्राप्ति का व्रत है करवा चौथ

    अखण्ड सौभाग्य प्राप्ति का व्रत है करवा चौथ

    इस वर्ष करवा चौथ का व्रत 19 अक्तूबर 2016 को रखा जाएगा। यह पर्व सुहागिन स्त्रियां मनाती हैं। यह व्रत सुबह सूर्योदय से पहले करीब 4 बजे के बाद शुरू होकर रात में चन्द्रमा दर्शन के बाद सम्पूर्ण होता है।

  11. कभी खाए हैं चपाती नूडल्स, रोटी उपमा, रोटी खिचड़ी?

    कभी खाए हैं चपाती नूडल्स, रोटी उपमा, रोटी खिचड़ी?

    कभी−कभी जब आटा ज्यादा होता है तो गृहणियां यह सोच रोटियां अधिक बना लेती हैं कि बाद में भूख लगने पर वह उसे खा लेंगी। लेकिन ऐसा होता नहीं है और फिर उन रोटियों को फेंकने के सिवाय दूसरा कोई रास्ता नहीं बचता।

  12. कब तक दांव पर लगता रहेगा नारी अस्तित्व?

    कब तक दांव पर लगता रहेगा नारी अस्तित्व?

    अपने प्यार को जबरन जाहिर करने या अपनी कुत्सित इच्छा थोपने में नाकाम सिरफिरों द्वारा महिलाओं और युवतियों की हत्या या उन्हें जख्मी करने की वारदातें लगातार बढ़ती जा रही हैं।