1. होली के दिन दिल खिल जाते हैं, रंगों में रंग मिल जाते हैं

    होली के दिन दिल खिल जाते हैं, रंगों में रंग मिल जाते हैं

    ऐसी मान्यता है कि होली के दिन लोग अपने गले-शिकवे और आपसी कटुता भूल कर एक दूसरे से गले मिलते हैं और पुनः दोस्त बन जाते हैं। यह दिन नयी दोस्ती बनाने के लिए भी होता है।

  2. घर और दफ्तर में बखूबी तालमेल स्थापित कर रही है नारी

    घर और दफ्तर में बखूबी तालमेल स्थापित कर रही है नारी

    देश दुनिया की खबर रखती आज की नारी घर और दफ्तर में बखूबी तालमेल स्थापित कर रही है। समय के साथ खुद को अपडेट करती हुई अपनी बेटी को भी स्वावलंबी बना रही हैं।

  3. ब्रेकअप का गम करना चाहती हैं कम? जानें कुछ उपाय

    ब्रेकअप का गम करना चाहती हैं कम? जानें कुछ उपाय

    अपनी आंखों की सूजन को काजल, मस्कारे से छिपाएं, रुखे होठों पर लाली लगाएं, मुरझाए चेहरे को फेस पाउडर, ब्लश से चमकाएं। चेहरे की रंगत निखारने के साथ-साथ सुंदर कपड़े पहन थमी जिंदगी को नई उड़ान दें।

  4. चुनौतियों से भरी जिंदगी में कामयाबी के लिए कुछ टिप्स

    चुनौतियों से भरी जिंदगी में कामयाबी के लिए कुछ टिप्स

    जहां तक संभव हो, अपनी ओर से हालात को बदलने की कोशिश करनी चाहिए। प्रतिकूल स्थितियां हमें जो अनुभव प्रदान करती हैं, वे ही भविष्य में हमारा हौसला बढ़ाती हैं और काम आती हैं।

  5. दिल है कि मानता नहीं, मुश्किलें बड़ी हैं ये जानता ही नहीं

    दिल है कि मानता नहीं, मुश्किलें बड़ी हैं ये जानता ही नहीं

    कहते हैं वह तवायफ भी गालिब से बेपनाह मोहब्बत करती थी, पर उसे गालिब की बदनामी मंजूर न थी। लिहाजा, उसने खुद ही उनसे गुजारिश की थी कि वह अपनी शादीशुदा जिंदगी में मन लगाएं।

  6. गर्लफ्रैंड या ब्वायफ्रेंड बनाना है? यह रहे कुछ टिप्स

    गर्लफ्रैंड या ब्वायफ्रेंड बनाना है? यह रहे कुछ टिप्स

    गर्लफ्रैंड और ब्वायफ्रैंड की चाह रखने वाले लड़के−लड़कियों को सबसे पहले अपने व्यक्तित्व को एक खास लुक देना जरूरी है। लेकिन इसके लिए जरूरी नहीं है कि आप ब्यूटी पार्लरों का चक्कर लगाएं।

  7. युवाओं के बीच महँगी घड़ियां बनीं स्टाइल स्टेटमेंट

    युवाओं के बीच महँगी घड़ियां बनीं स्टाइल स्टेटमेंट

    एक समय था जब कलाई पर घड़ी सिर्फ समय देखने के लिए बांधी जाती थी। लोग इसकी लुक और स्टाइल पर कम ध्यान देते थे मगर अब ऐसा नहीं हैं। घड़ी अब एक स्टाइल स्टेटमेंट भी हैं।

  8. उठो और तब तक मत रुको, जब तक लक्ष्य तक न पहुंच जाओ

    उठो और तब तक मत रुको, जब तक लक्ष्य तक न पहुंच जाओ

    गुरुदेव रवीन्द्रनाथ ठाकुर ने उनके बारे में कहा था- "यदि आप भारत को जानना चाहते हैं, तो विवेकानन्द को पढ़िये। उनमें आप सब कुछ सकारात्मक ही पाएंगे, नकारात्मक कुछ भी नहीं।"

  9. चाहते हैं बेहतर जीवनसाथी? ऐसे करें चुनाव

    चाहते हैं बेहतर जीवनसाथी? ऐसे करें चुनाव

    बहुत से कपल्स तो शादी के तुरंत बाद ही छोटी−छोटी बातों पर लड़ने लगते हैं। अगर आप भी अपने लिए एक परफेक्ट पार्टनर ढूंढ रही हैं तो कुछ बातों का रखें ध्यान−

  10. सकारात्मक रुख से जीवन की हर मुश्किल होती है आसान

    सकारात्मक रुख से जीवन की हर मुश्किल होती है आसान

    जब स्थितियां हमारे लिए अनुकूल होती हैं, तो मनुष्य बहुत खुश होता है। लेकिन जब जीवन में मुश्किलें आती हैं तो मनुष्य सकारात्मकता का दामन छोड़कर नकारात्मक विचारों को अपनाने लगता है।

  11. फैशन डिजाइनर बता रही हैं कौन सी टी-शर्ट है बेहतर

    फैशन डिजाइनर बता रही हैं कौन सी टी-शर्ट है बेहतर

    कॉलेज जाना हो या जांगिंग, या फिर ऑफिस, हर जगह उन्हें टी−शर्ट ही भाता है। लड़कों की इसी पंसद को देखते हुए ही बाजार में तरह−तरह की कलरफुल टी−शर्ट्स की बहार छा गई है।

  12. प्रदूषण को नहीं कर सकते अनदेखा, उठाने होंगे कदम

    प्रदूषण को नहीं कर सकते अनदेखा, उठाने होंगे कदम

    कहने को तो कई तरह की कोशिशें देश में प्रदूषण रोकने के नाम पर की जाती हैं, किंतु हम देख सकते हैं कि अभी तक कोई भी व्यवस्था कुछ खास कारगर नहीं हुई है। शायद इसीलिए एनजीटी दिल्ली और केंद्र सरकार पर भड़क गया है।