Prabhasakshi Logo
शनिवार, जुलाई 22 2017 | समय 20:26 Hrs(IST)
ब्रेकिंग न्यूज़
Ticker Imageनोटबंदी और जीएसटी से बढ़ेगा कर आधारः वित्त मंत्रीTicker Imageअमेरिका ने जम्मू-कश्मीर के विवरण में विसंगति की बात स्वीकारीTicker Imageबिहार में निर्माणाधीन रेल ऊपरी पुल का एक हिस्सा ढहा, दो की मौतTicker Imageगुजरात के सौराष्ट्र में बाढ़ जैसी स्थिति, तीन की मौतTicker Imageअन्नाद्रमुक में कोई विभाजन नहीं हुआ: थम्बीदुरईTicker Imageमेरा चुनाव लड़ने का अभी कोई इरादा नहीं: हार्दिक पटेलTicker Imageकेंद्र सरकार ने किया नौकरशाही में बड़ा फेरबदलTicker Imageआधार अनिवार्य करना है तो इसे मतदाता पहचान पत्र से जोड़ेंः येचुरी

Team

प्रभासाक्षी संपादकीय टीम:-

श्री गौतम आर. मोरारका:
प्रधान संपादक

@gmorarka

प्रभासाक्षी.कॉम हिंदी पोर्टल की अवधारणा और परिकल्पना श्री मोरारका की ही देन है। पेशे से उद्योगपति श्री मोरारका उद्योग की दुनिया के बाहर भी अपने सरोकारों और उत्तरदायित्वों को अच्छी तरह समझते हैं और उनकी हार्दिक इच्छा है कि कोई भी भारतीय नागरिक सूचना के मूलभूत अधिकार से वंचित न हो।

सरकार की ओर से प्रदत्त प्रतिष्ठित भामाशाह पुरस्कार से दो बार सम्मानित तथा अनेक अन्य सम्मानों से अलंकृत श्री मोरारका देश के प्रमुख चीनी उद्योगों में से एक द्वारिकेश समूह के प्रबंध निदेशक हैं। लेकिन मन से वे एक रचनात्मक व्यक्ति हैं और इसी वजह से अभिव्यक्ति की दुनिया के बहुत करीब भी। श्री मोरारका लंबे समय से उत्तर प्रदेश और राजस्थान में विकास और जनसेवा की गतिविधियों में संलग्न हैं। उन्होंने अनेक गैर-सरकारी संगठनों की स्थापना की है जिनमें सेवाज्योति, आरआर मोरारका चैरिटेबल ट्रस्ट और नर्बदा देवी मोरारका चैरिटेबल ट्रस्ट शामिल हैं। इन संगठनों ने राजस्थान और उत्तर प्रदेश में जन-कल्याण के कार्यों पर व्यापक राशि का निवेश किया है और कुछ गांवों को गोद लेकर उनकी दशा सुधारने का भी प्रयास किया है। 

टेक्नॉलॉजी और मीडिया के क्षेत्र में श्री मोरारका की गहरी दिलचस्पी है और उनकी कंपनी अपने क्षेत्र में टेक्नॉलॉजी का विषद प्रयोग करने के लिए प्रसिद्ध है। प्रभासाक्षी.कॉम की टीम के सारे उत्साह और ऊर्जा के पीछे उन्हीं की प्रेरणा और प्रोत्साहन है।

नीरज कुमार दुबेः
सहयोगी संपादक
@neerajdubey


प्रभासाक्षी.कॉम में होने वाले समाचार कवरेज और राजनीतिक विश्लेषणों के लिए उत्तरदायी। नीरज राजनीति के उतार−चढ़ावों और चाल−शह−मात को समय रहते भांपने में माहिर हैं। लगभग सभी प्रमुख राजनैतिक दलों में उनके अच्छे संपर्क हैं। उन्होंने पत्रकारिता में अपने कॅरियर की शुरूआत अपेक्षाकृत भिन्न क्षेत्र से की, और वह था− टेक्नॉलॉजी। आईटी पर मुंबई से प्रकाशित प्रसिद्ध हिंदी पत्रिका 'चिप' को उसका नया कलेवर देने और पठनीय सामग्री से समृद्ध करने में नीरज का प्रमुख योगदान रहा।

उन्हें प्रिंट, टेलीविजन और इंटरनेट तीनों तरह के समाचार माध्यमों में काम करने का अनुभव है लेकिन पहला प्यार है− आईटी। खबरों के अलावा उनके पास चुटकुलों और फिल्म संगीत का भी खजाना है।


काकः 
कार्टूनिस्ट 

हिंदी के सर्वाधिक सफल और चर्चित कार्टूनिस्टों में से एक हरिश्चंद्र शुक्ला 'काक' प्रभासाक्षी की शुरूआत से ही हमारे साथ हैं। हिंदी के सम्मानित और सफलतम दैनिकों से जुड़े रहे काक नवभारत टाइम्स से रिटायर हुए। अलबत्ता, वे रचनाकर्म से रिटायर नहीं हुए और उनके कार्टूनों की धार आज भी पहले जैसी ही पैनी है।

स्थायी स्तंभकार
-श्री कुलदीप नैयर
-श्री तरूण विजय

पत्रकार व लेखक पैनल-

अजय कुमारः
वरिष्ठ पत्रकार। उत्तर प्रदेश की राजनीति पर पैनी नजर रखने वाले, अनुभवी मीडिया प्रोफेशनल। लखनऊ में प्रभासाक्षी के प्रतिनिधि।

सुधांशु शर्माः
ग्राफिक्स एवं कंटेंट सहयोग 

सुरेश एस. डुग्गर
पत्रकार

विजय कुमार
पत्रकार

वर्षा शर्माः 
लेखिका

प्रीटी
लेखिका

मिथिलेश कुमार सिंह 
स्वतंत्र लेखक

देवांशु वत्स
स्वतंत्र लेखक

साकेन्द्र प्रताप वर्मा
स्वतंत्र लेखक

मृत्युंजय दीक्षित
स्वतंत्र पत्रकार