अंकिता लोखंडे ने कहा फर्जी है रिया चक्रवर्ती का दावा, सुशांत 2013 में नहीं था डिप्रेशन का शिकार

अंकिता लोखंडे ने कहा फर्जी है रिया चक्रवर्ती का दावा, सुशांत 2013 में नहीं था डिप्रेशन का शिकार

सुशांत सिंह राजपूत की मौत की मुख्य आरोपी रिया चक्रवर्ती ने एक टीवी चैनल को पहली बार दो घंटे का इंटरव्यू दिया। जिसमें रिया ने अपना पक्ष रखा। रिया ने अपने और सुशांत के रिश्ते और परिवार से विवाद को लेकर भी काफी बारे बताई।

सुशांत सिंह राजपूत की मौत की मुख्य आरोपी रिया चक्रवर्ती ने एक टीवी चैनल को पहली बार दो घंटे का इंटरव्यू दिया। जिसमें रिया ने अपना पक्ष रखा। रिया ने अपने और सुशांत के रिश्ते और परिवार से विवाद को लेकर भी काफी खुलासे किए। इस पूरे इंटरव्यू में उन्होंने सुशांत सिंह राजपूत को डिप्रेशन का मरीज बताया। रिया चक्रवर्ती के पूरे इंटरव्यू में सुशांत को डिप्रेशन का मरीज बताया गया। रिया ने दावा किया है कि सुशांत सिंह राजपूत 2013 से डिप्रेशन में थे और तभी से ही उन्होंने  डिप्रेशन की दवा लेना शुरू किया था। रिया का ये भी दावा है कि सुशांत को फ्लाइट फोबिया हैं। 

 

इसे भी पढ़ें: कंगना रनौत की फिल्म 'तेजस' का पोस्टर रिलीज, सामने आयी धमाकेदार जानकारी

रिया चक्रवर्ती के इंटरव्यू के सभी दावों को खारिज करते हुए अंकिता लोखंते ने एक पोस्ट किया हैं जिसमें उन्होंने साफ तौर पर कहा है कि सुशांत सिंह राजपूत के साथ मैं एक रिश्ते में 6 साल तक थी। हम 23 फरवरी 2016 को अलग हुई। सुशांत को किसी भी तरह की कोई मेंटल बीमारी या डिप्रेशन नहीं था।  

इसे भी पढ़ें: ड्रग्स पहलू की जांच करने के लिए मुंबई पहुंची नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो की टीम

सोशल मीडिया पर अंकिता लोखंडे ने एक पोस्ट किया और साफ तौर पर लिखा कि रिया के सुशांत के डिप्रेशन में होने के सारे दावे गलत हैं। उन्होंने पोस्ट में लिखा कि 23 फरवरी 2016  तक मैंने सुशांत के अंदर कोई भी डिप्रेशन वाली चीज नहीं देखी और न ही किसी डॉक्टर से मिले। उन्होंने रिया चक्रवर्ती के उस बात का भी खंडन किया जिसमें उन्होंने कहा थी कि अंकिता लोखंडे ने सुशांत से अलग होने के बाद भी फोन पर बात की है। अंक्ता ने कहा- जीं नहीं रिया ने ये बात पूरे तरह से झूठ है। सुशांत के साथ मैंने कोई बात नहीं की है। सुशांत ने फिल्म मणिकर्णिका: द क्वीन ऑफ झांसी के दौरान मेरे पोस्टर पर कंमेंट किया था उसी का जवाब मैंने शुक्रिया कहकर दिया था। वास्तव में मैंने अब तक के साक्षात्कारों में बस यही बात की है कि जब तक मैं और सुशांत एक साथ थे, वह कभी किसी तरह के अवसाद में नहीं थे। हमने उनकी सफलता के लिए एक साथ सपने देखे और मैंने प्रार्थना की और वह सफल रहे। मैंने स्पष्ट रूप से उल्लेख किया है कि मैं वास्तव में रिया को  नहीं जानती थी  और उनके रिश्ते के बारे में भी अधिक जानकारी नहीं थी।अंकिता ने कहा "फ्लैट के बारे में मैंने पहले ही साफ़ कर दिया है और परिवार के पास मेरी राय के विपरीत कोई अलग राय नहीं है। इसलिए मैं अभी भी सच्चाई के आधार पर डटी हुई हूं और स्वीकार करती हूं कि मैं परिवार के पक्ष में खड़ी हूं, न कि रिया के साथ।"

 

 आपको बता दें कि सुशांत सिंह सिंह राजपूत के बारे में रिया चक्रवर्ती ने इंटरव्यू में डिप्रेशन से जुड़ी तमाम बाते कहीं हैं। अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत को आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप का सामना कर रही अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती ने बृहस्पतिवार को दिवंगत कलाकार के साथ अपने संबंधों की चर्चा की और इस बात से इनकार किया कि वह सुशांत के पैसों पर आश्रित थी। सुशांत के परिवार ने रिया और उनके परिवार के सदस्यों पर दिवंगत अभिनेता के पैसों की हेराफेरी करने का आरोप लगाया है। रिया ने एक टीवी चैनल के साथ साक्षात्कार में इन आरोपों का खंडन किया। मुंबई पुलिस के बाद, प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) और केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) अभिनेता की मौत के मामले की भिन्न कोणों से जांच कर रहे हैं।

दिवंगत स्टार के साथ अपनी बहुप्रचारित यूरोप यात्रा के संबंध में रिया ने आजतक चैनल के साथ साक्षात्कार में कहा कि उन्हें पेशेवर काम के सिलसिले में पेरिस जाना था। रिया ने कहा कि इस संबंध में यूरोप यात्रा करना सुशांत का विचार था और सुशांत ने प्रायोजक कंपनी द्वारा बुक किए गए टिकटों को रद्द कराया था। उन्होंने कहा कि उनका भाई दिवंगत अभिनेता के आग्रह पर इटली में मिला था। रिया ने कहा, ‘‘ उन्होंने (सुशांत) बाकी यात्रा और होटलों का भुगतान किया था। वह चाहते थे और मुझे इससे कोई समस्या नहीं थी। मुझे समस्या इस बात से थी कि सुशांत कितना खर्च कर रहे थे। लेकिन वह ऐश्वर्यपूर्ण जीवन जीते थे, उन्हें यह पसंद था। ’’

रिया ने कहा कि वह एक बार अपने दोस्तों के साथ थाईलैंड की यात्रा पर गए और उस यात्रा पर 70 लाख रुपये खर्च कर दिए। रिया ने वरिष्ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई से कहा, ‘‘... वह एक स्टार की तरह रहते थे, उन्हें यह पसंद था... नहीं, मैं सुशांत सिंह राजपूत के पैसों पर आश्रित नहीं थी। हम एक जोड़े की तरह रह रहे थे।’’ यह पूछे जाने पर कि उनके भाई शौविक उनकी यूरोप यात्रा में क्यों शामिल हुए, रिया ने कहा कि उन तीनों ने एक कृत्रिम बुद्धिमत्ता (एआई) कंपनी बनाई है जिसका नाम रियालिटिक्स है और इसका नाम उनके नाम पर रखा गया था। कंपनी में प्रत्येक ने 33,000 रुपये का निवेश किया था। रिया ने कहा कि वह सुशांत के अंतिम संस्कार के लिए सूची में नहीं थीं क्योंकि ‘‘अभिनेता के परिवार के सदस्य मुझे पसंद नहीं करते।’’ उन्होंने कहा कि वह अंतिम संस्कार में शामिल होना चाहती थी लेकिन अपने दोस्तों के सुझाव पर विचार छोड़ दिया क्योंकि परिवार उसे वहां नहीं चाहता था।

रिया ने कहा कि उनके दोस्तों ने कहा कि “तुम्हें वहां बेइज्जत किया जाएगा, तुम्हें बाहर निकाल दिया जाएगा। तुम्हारी मानसिक स्थिति भी अभी ठीक नहीं है।’’ इन आरोपों के बारे में पूछे जाने पर कि वह सुशांत की जीवन शैली और कर्मचारियों को नियंत्रित कर रही थीं, रिया ने आरोपों को आधारहीन बताया और कहा कि अधिकतर कर्मचारियों को या तो सुशांत या उनकी बहन प्रियंका ने काम पर रखा था। रिया ने अपने खिलाफ मीडिया ट्रायल को लेकर अफसोस जताया।उन्होंने कहा, “यह मुझे, मेरे परिवार को तोड़ने की साजिश है...।