'फैशन' की दुनिया की 'क्वीन' मानों या दुश्मनों से पंगा लेने वाली झांसी की रानी! कंगना का हर किरदार बना 'धाकड़'

 Kangana
रेनू तिवारी । Mar 23, 2021 3:32PM
कंगना रनौत बॉलीवुड की दुनिया का वो नाम है जिसने अपने अकेले के दम पर महाराष्ट्र सरकार को चुनौती दी थी। बॉलीवुड क्वीन ने सिनेमा की दुनिया में एक लंबा और कठोर सफर तय करके आज अपना नाम बनाया हैं।

कंगना रनौत बॉलीवुड की दुनिया का वो नाम है जिसने अपने अकेले के दम पर महाराष्ट्र सरकार को चुनौती दी थी। बॉलीवुड क्वीन ने सिनेमा की दुनिया में एक लंबा और कठोर सफर तय करके आज अपना नाम बनाया हैं। मुद्दा सिनेमा से जुड़ा हो या राष्ट्रीय राजनीति से कंगना मुखर शब्दों अपनी बात जनता के सामने रखती हैं। 2020 में सोशल मीडिया पर कंगना रनौत सबसे ज्यादा ट्रेंड होने वाली हस्तियों में से एक हैं। कंगना रनौत को उनकी बेबाकी अंदाज के लिए जनता उन्हें भरपूर प्यार देती हैं। सोशल मीडिय़ा पर उनके समर्थकों की सख्या लाखों में हैं। कंगना रनौत बॉलीवुड की हाई पेड एक्ट्रेस में से एक हैं वह अपने नाम के दम पर किसी भी फिल्म को सुपरहिट करने करवाने की क्षमता रखती हैं। 

इसे भी पढ़ें: कंगना रनौत के जन्मदिन पर रिलीज हुआ मोस्ट अवेटिड फिल्म 'थलाइवी' का ट्रेलर 

23 मार्च को कंगना रनौत अपना जन्मदिन बना रही हैं। एक्ट्रेस ने अपने जन्मदिन पर अपने फैंस के लिए अपनी आने वाली फिल्म थलाइवी का ट्रेलर रिलीज किया है। ट्रेलर रिलीज के बाद उन्हें फिल्म में निभाए किरदार के लिए सोशल मीडिया पर काफी प्रशंसा मिल रही हैं। आज आपको उनके खास दिन पर हम आपको कंगना रनौत के बारे में कुथ अनसुनी जानकारी देते हैं। 

निजी जीवन

कंगना रनौत का जन्म 23 मार्च 1987 में हिमाचल प्रदेश के एक छोटे से शहर भांबला में हुआ था। कगंना का परिवार चाहता था कि वह बड़ी होकर डॉक्टर बनें लेनिक कंगना को तो आसमान में उड़ना था। उनकी मंजिल कुछ और थी। सोलह वर्ष की आयु में कंगना रनौत अपना घर छो़ड़कर दिल्ली आ गईं और थोड़े समय के लिए मॉडलिंग की। 

फिल्मी सफर

एक भारतीय अभिनेत्री और फिल्म निर्माता हैं जो हिंदी फिल्मों में काम करती हैं। चार राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों और चार फिल्मफेयर पुरस्कारों सहित कई पुरस्कारों के प्राप्तकर्ता, उन्होंने फोर्ब्स इंडिया की सेलिब्रिटी 100 सूची में छह बार छापा है। 2020 में, भारत सरकार ने उन्हें देश के चौथे सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार पद्म श्री से सम्मानित किया। थिएटर निर्देशक अरविंद गौड़ के तहत प्रशिक्षित होने के बाद, रनौत ने 2006 की थ्रिलर गैंगस्टर में अपनी फीचर फिल्म की शुरुआत की। ये फिल्म शानदार रही। इस फिल्म के लिए कंगना रनौत को बेस्ट डेब्यू एक्ट्रेस के लिए फिल्मफेयर पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। इस अवॉर्ड के बाद कंगना के पंखों को उड़ान मिल गयी और वह अपने सफर पर निकल गयी। कंगना ने खूब मेहनत की और अपने टैलेंट के दम पर एक के बाद एक शानदार फिल्में देने शुरू कर दिया। 

 

सफल फिल्में 

कंगना ने वो लम्हे (2006), लाइफ इन अ ... मेट्रो (2007) और फैशन (2008) में भावनात्मक रूप से गहन पात्रों को चित्रित करने के लिए प्रशंसा मिली। फिल्म फैशन के लिए उन्होंने सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री के लिए राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार मिला। कमर्शियल फिल्मों में भी कंगना ने शानदार काम किया जिसने बॉक्स ऑफिस पर अच्छी कमाई की थी। व्यावसायिक रूप से सफल फिल्मों राज़: द मिस्ट्री कंटीन्यूज़ (2009) और वंस अपॉन ए टाइम इन मुंबाई (2010) शामिल है।

 

2011 में आयी तनु वेड्स मनु ने कंगना रनौत को स्टार बना दिया। साइंस फिक्शन फिल्म क्रिश 3 में एक म्यूटेंट की भूमिका निभाई, जो सबसे अधिक कमाई वाली भारतीय फिल्मों में से एक थी। कॉमेडी-ड्रामा क्वीन (2014) में एक छोड़ी हुई दुल्हन की भूमिका निभाई थी जो अपने हनीमून पर अकेले ही निकल जाती हैं। इस फिल्म के लिए उन्हें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार जीता था। 

चौथी बार जीता राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार

2018 से लेकर 2018 तक कुछ फिल्में सफल नहीं हुई। व्यावसायिक असफलताओं के बाद, उन्होंने अपने सह-निर्देशकीय उद्यम, बायोपिक मणिकर्णिका: द क्वीन ऑफ़ झाँसी (2019) में योद्धा को चित्रित किया, इसके बाद खेल फिल्म पंगा (2020) में एक कबड्डी खिलाड़ी की भूमिका निभाई। इन दो प्रदर्शनों के लिए उन्हें चौथी बार राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

 

विवादों से पाला

रनौत को मीडिया में देश की सबसे अच्छी स्टाइलिश ड्रेस वाली सेलिब्रिटी के रूप में श्रेय दिया जाता है, और प्रेस में मुखर होने के लिए जाना जाता है। उनके व्यक्तिगत और व्यावसायिक रिश्तों की लगातार खबरों के साथ उन्होंने जो राय दी है, वह अक्सर विवादों की वजह बनी हैं। 

 

अन्य न्यूज़