रिलीज से पहले चिंता में थे ‘द फैमिली मैन’ के सह-निर्देशक, तांडव जैसे विवाद को लेकर था डर

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जून 11, 2021   15:31
  • Like
रिलीज से पहले चिंता में थे ‘द फैमिली मैन’ के सह-निर्देशक, तांडव जैसे विवाद को लेकर था डर

वेब-सीरिज ‘द फैमिली मैन’ के सह-निर्देशक सुपर्ण वर्मा ने कहा कि ‘अमेजन प्राइम वीडियो’ की सीरिज ‘तांडव’ को लेकर हुए विवाद के बाद वह इस बात को लेकर चितिंत थे कि दर्शकों को उनकी सीरिज कैसी लगेगी।

मुंबई। वेब-सीरिज ‘द फैमिली मैन’ के सह-निर्देशक सुपर्ण वर्मा ने कहा कि ‘अमेजन प्राइम वीडियो’ की सीरिज ‘तांडव’ को लेकर हुए विवाद के बाद वह इस बात को लेकर चितिंत थे कि दर्शकों को उनकी सीरिज कैसी लगेगी। राज निदीमोरू और कृष्णा डीके की यह वेब-सीरिज ‘द फैमिली मैन’ चार जून से ‘अमेजन प्राइम’ पर प्रसारित की जा रही है। सीरिज की समीक्षकों और दर्शकों दोनों ने सराहना की है। मनोज बाजपेयी अभिनीत सीरिज को पहले फरवरी में रिलीज होना था, लेकिन वेब सीरिज ‘तांडव’ को लेकर हुए विवाद के बाद इसकी रिलीज आगे बढ़ा दी गई थी।

इसे भी पढ़ें: फिल्म रक्षा बंधन में अक्षय कुमार के साथ नजर आएंगी भूमि पेडनेकर, शेयर की तस्वीर

सैफ अली खान अभिनित ‘तांडव’ के निर्माताओं पर धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का आरोप लगा था और इसके खिलाफ कई प्राथमिकी भी दर्ज की गई थी। वर्मा ने कहा, ‘‘ ‘तांडव’ के साथ जो हुआ, उससे हम चिंतित हो गए थे। यह आम चिंता थी, जो केवल हमें नहीं बल्कि हर शो को लेकर हो सकती है, जिसपर आप काम कर रहे हैं। यह आपकों सोचने पर मजबूर कर देता है कि किसे क्या बुरा लग जाए और आपको इसका कोई अंदाजा भी नहीं होता क्योंकि किसी को भी कुछ भी बुरा लग सकता है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ हमने अपने शो पर गौर किया, हमें पता था कि हम क्या कर रहे हैं, हमने कुछ भी किसी को प्रभावित करने के लिए नहीं किया, यह सब शो का अभिन्न हिस्सा था। लेकिन इसे किस तरह लिया जाएगा हमें इस बात की भी चिंता थी।’’

इसे भी पढ़ें: निखिल से अपनी शादी को अमान्य कहने पर नुसरत जहां हुईं ट्रोल, लोगों ने पूछा संसद में झूठ क्यों बोला?

वर्मा ने यह बयान बृहस्पतिवार रात ‘एमएलवायएक्स बैकस्टेज’ पर मीडिया और प्रशंसकों के साथ बातचीत के दौरान दिया ‘एमएलवायएक्स बैकस्टेज’ ऑडिया आधरित एक सोशल मीडिया एप है। लेखक एवं निर्देशक ने कहा, ‘‘ हम कहानी विवाद खड़ा करने के लिए नहीं लिख रहे थे। यह आखिरी चीज होगी जो हम करना चाहेंगे। हम चाहते थे कि शो शांतिपूर्ण तरीके से रिलीज हो और दर्शक इसका लुत्फ उठाएं।’’ सीरिज की रिलिज आगे बढ़ाने के बाद भी यह विवादों से बच नहीं पाई थी।

राज्यसभा सांसद एवं एमडीएमके के नेता वायको ने भी केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को पत्र लिखकर और इसकी रिलीज पर रोक लगाने की मांग की थी। उन्होंने कहा था कि सीरीज में तमिल समुदाय के लोगों को नकारात्मक तरीके से दिखाया जा रहा है। नाम तमिलर काची (एनटीके) के संस्थापक सीमान ने भी इस पर प्रतिबंध लगाए जाने की मांग की थी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept