सुपहिट फ़िल्में और अच्छी एक्टिंग के बाद भी बॉलीवुड ने शिल्पा शेट्टी को किया रिजेक्ट

सुपहिट फ़िल्में और अच्छी एक्टिंग के बाद भी बॉलीवुड ने शिल्पा शेट्टी को किया रिजेक्ट

हाल में अभिनेत्री ने एक इंटरव्यू के दौरान बताया कि हिंदी सिनेमा में शायद ही कोई ऐसा इंसना होगा, जिसने रिजेक्शन नहीं देखा होगा. शिल्पा बताती हैं कि सभी अच्छे कलाकारों को काम की भूख होती है और वो जितना ज़्यादा रिजेक्ट होते हैं,

बॉलीवुड एक ऐसी जगह है जहां हर रोज़ हज़ार लोग अपनी किस्मत आजमाने आते हैं, लेकिन सफ़लता बस कुछ ही लोगों को मिलती है। ऐसी ही सफ़ल अभिनेत्रियों में शिल्पा शेट्टी भी आती हैं। आज के दौर में शिल्पा को किसी परिचय की ज़रूरत भले ही न हो, पर ये पहचान उन्हें तमाम रिजेक्शन के बाद मिली है और इस बात का ज़िक्र ख़ुद शिल्पा ने ही किया है।

इसे भी पढ़ें: ''छोटे सरकार'' के गाने को लेकर शिल्पा, गोविंदा को राहत

हाल में अभिनेत्री ने एक इंटरव्यू के दौरान बताया कि हिंदी सिनेमा में शायद ही कोई ऐसा इंसना होगा, जिसने रिजेक्शन नहीं देखा होगा. शिल्पा बताती हैं कि सभी अच्छे कलाकारों को काम की भूख होती है और वो जितना ज़्यादा रिजेक्ट होते हैं, उतनी ही मेहनत के साथ काम करते हैं। इस दौरान अभिनेत्री ने ये भी बताया कि एक समय में वो भी कई बार रिजेक्ट हुई, इसके साथ ही उन्होंने बिग ब्रदर के अलावा कभी कोई कॉम्पिटिशन नहीं जीता।

इस दौरान शिल्पा ने काफ़ी मेहनत की और हर कीमत पर काम पूरा किया. इंटरव्यू में शिल्पा ने ये भी कहा कि आज जब वो अपनी 25 साल पुरानी फ़िल्में देखती हैं, तो सोफ़े की पीछे छिप जाती हैं। लाल लिपस्टिक, गोल्डन बाल और ब्लू लेंस में खु़द को देख कर वो सोचती हैं कि आखिर लोगों ने उन्हें इतने सारे मौके दिये कैसे। हिंदी सिनेमा में सफ़लता की सीढ़िया चढ़ने वाली शिल्पा ख़ुद को किस्मत वाली और ब्लेस्ड मानती हैं।

इसे भी पढ़ें: अमिताभ घोष की ‘इबिस ट्रिलॉजी पर एक सीरिज बनाने को तैयार हैं शेखर कपूर

इसके साथ ही जब शिल्पा से 'धड़कन' और 'फिर मिलेंगे' जैसी फ़िल्म के लिये कोई अवॉर्ड न मिलने के बारे में पूछा गया, तो उन्होंने बताया कि मुझे एक फ़िल्म मिली थी, जो आज तक नहीं बन पाई। इसके बाद शिल्पा को बाज़ीगार में काम करने का मौका मिला और वो हिट रही।  इस फ़िल्म से शिल्पा दर्शकों के दिलों में अपनी ख़ास जगह बनाने में कामयाब रही और उनकी इस फ़िल्म का गाना भी ख़ूब चर्चा में रहा।  इन दोनों फ़िल्मों में शिल्पा ने सुर्खियां, तो ख़ूब बटोरी, लेकिन अफ़सोस इसके बाद उन्हें कोई ख़ास रोल नहीं मिल पाया और न ही इन फ़िल्मों के लिये कोई अवॉर्ड। इसके बाद शिल्पा ने ख़ुद को पहले से ज़्यादा रिजेक्टेड फ़ील किया, लेकिन फिर भी वो हारी नहीं और उन्होंने काम जारी रखा।