आखिर क्यों शाहरुख खान ने लिया फिल्मों से 4-5 महीनें का BREAK?

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Aug 11 2019 4:50PM
आखिर क्यों शाहरुख खान ने लिया फिल्मों से 4-5 महीनें का BREAK?
Image Source: Google

सुपरस्टार शाहरुख खान ने फिल्मों से थोड़े समय का ‘‘ब्रेक’’ लिया है लेकिन अभिनेता का कहना है कि अच्छे सिनेमा के लिये उनमें अब भी बहुत क्षमता है। 53 वर्षीय अभिनेता की आखिरी फिल्म ‘दिलवाले’, ‘जब हैरी मेट सेजल’ और ‘जीरो’ थी जिसे दर्शकों से अच्छी प्रतिक्रिया नहीं मिली। अभिनेता ने कहा कि अपने आस-पास मौजूद लोगों में फिल्मों के लिये जुनून देखकर ही उन्हें अच्छी कहानियां सुनने का मौका मिलता है।

मेलबर्न। सुपरस्टार शाहरुख खान ने फिल्मों से थोड़े समय का ‘‘ब्रेक’’ लिया है लेकिन अभिनेता का कहना है कि अच्छे सिनेमा के लिये उनमें अब भी बहुत क्षमता है। 53 वर्षीय अभिनेता की आखिरी फिल्म ‘दिलवाले’, ‘जब हैरी मेट सेजल’ और ‘जीरो’ थी जिसे दर्शकों से अच्छी प्रतिक्रिया नहीं मिली। अभिनेता ने कहा कि अपने आस-पास मौजूद लोगों में फिल्मों के लिये जुनून देखकर ही उन्हें अच्छी कहानियां सुनने का मौका मिलता है।

इसे भी पढ़ें: टीवी एक्टर का मलाइका के साथ फ़्लर्ट करना अर्जुन को नहीं आया रास

शाहरुख ने कहा कि अच्छी फिल्म करने के लिये जो बात मुझे प्रेरित करती है वह मैं समझता हूं मेरे इर्द-गिर्द मौजूद लोग ही हैं जो ऐसी बेहतरीन सिनेमा बनाते हैं और मैं समझता हूं कि मुझमें अच्छी फिल्में करने की क्षमता बाकी है। मेरे अंदर अब भी 20-25 साल अच्छा सिनेमा करने की क्षमता बची है। अभिनेता यहां इंडियन फिल्म फेस्टीवल ऑफ मेलबर्न (आईएफएफएम) में मुख्य अतिथि के तौर पर आये थे, जिससे इतर उन्होंने ‘पीटीआई’ से बात की।

इसे भी पढ़ें: मुश्किल में बाटला हाउस फिल्म, रिलीज पर इस वजह से लग सकती है रोक



शाहरुख ने यह भी बताया कि ‘जीरो’ के बाद उन्होंने कुछ समय का ब्रेक लेने का फैसला किया और वह जगह-जगह घूम-घूमकर नयी कहानियां तलाश रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘‘मैंने अभी अभी अपनी जो अंतिम फिल्म पूरी की उसका प्रदर्शन अच्छा नहीं था, लेकिन मैं इसे हल्के में लेता हूं। अपने आप से मैं यही कहता हूं, चलो थोड़ी असफलता का स्वाद चखा जाये। इसलिए मैंने चार-पांच महीने का विराम लिया है।’’

इसे भी पढ़ें: PM नरेंद्र मोदी ने बॉलीवुड से जम्‍मू-कश्‍मीर में फिल्मों की शूटिंग करने की अपील की

अभिनेता ने कहा, ‘‘चूंकि मैं ब्रेक पर चल रहा हूं तो मैं यहां (मेलबर्न) आ गया और यहां लोगों से मिलजुल रहा हूं, नयी कहानियों और नयी चीजों को तलाश रहा हूं और बौद्धिक भाषण दे रहा हूं।’’शाहरुख ने नौ अगस्त को आईएफएफएम का आधिकारिक उद्घाटन किया था, जिसकी शुरुआत रीमा दास निर्देशित फिल्म ‘‘बुलबुल कैन सिंग’’ के प्रदर्शन से हुई। इस फिल्म ने शुक्रवार को सर्वश्रेष्ठ असमी फिल्म का राष्ट्रीय पुरस्कार जीता है।  

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video