निर्माता समीर राज सिप्पी बना रहे हृषिकेश मुखर्जी की ‘आनंद’ का रीमेक

Sameer Raj Sippy
विख्यात निर्देशक हृषिकेश मुखर्जी की फिल्म “आनंद” का रीमेक बनाया जाएगा। पचास साल से ज्यादा समय पहले रिलीज हुई इस फिल्म ने भारतीय जनमानस पर अमिट छाप छोड़ी है। वर्ष 1971 में एन. सी. सिप्पी ने ‘‘आनंद’’ फिल्म का निर्माण किया था ।

मुंबई। विख्यात निर्देशक हृषिकेश मुखर्जी की फिल्म “आनंद” का रीमेक बनाया जाएगा। पचास साल से ज्यादा समय पहले रिलीज हुई इस फिल्म ने भारतीय जनमानस पर अमिट छाप छोड़ी है। वर्ष 1971 में एन. सी. सिप्पी ने ‘‘आनंद’’ फिल्म का निर्माण किया था और अब उनके पोते समीर राज सिप्पी, निर्माता विक्रम खाखर के साथ मिलकर “आनंद” के नए संस्करण पर काम कर रहे हैं। हिंदी सिनेमा की बेहतरीन फिल्मों में से एक मानी जाने वाली मुखर्जी की “आनंद” में दिवंगत अभिनेता राजेश खन्ना ने मुख्य भूमिका निभाई थी। खन्ना एक मरणासन्न कैंसर रोगी की भूमिका में थे और अमिताभ बच्चन ने डॉ भास्कर का रोल निभाया था।

इसे भी पढ़ें: रवि किशन की मां ने कैंसर को दिया मात, एक्टर ने ट्वीट कर जताया आभार

फिल्म में खन्ना का किरदार डॉ भास्कर को ‘बाबू मोशाय’ कहकर संबोधित करता है और यह जुमला आज भी लोकप्रिय है। निर्माताओं के अनुसार, फिल्म के नए संस्करण की पटकथा लिखी जा रही है और निर्देशक का नाम तय होना बाकी है। समीर राज सिप्पी ने कहा कि “आनंद” की कहानी ऐसी है कि उसे आज की पीढ़ी को भी सुनाया जाना चाहिए।

इसे भी पढ़ें: मथुरा कृष्ण जन्म भूमि विवाद का सिविल कोर्ट में ट्रायल होगा, याचिका स्वीकारी गई

निर्माता ने बृहस्पतिवार को जारी एक बयान में कहा, “मूल फिल्म की संवेदनशीलता और भावनाओं को ध्यान में रखते हुए, मुझे लगता है कि वर्तमान पीढ़ी को बहुत सी ऐसी कहानियां सुनाई जानी चाहिए जो आज भी प्रासंगिक हैं, वह भी तब, जबकि लोग अच्छी सामग्री पसंद करते हैं।” खाखर “मैं और चार्ल्स” जैसी फिल्मों का निर्माण कर चुके हैं। उन्होंने कहा कि कोविड-19 महामारी ने लोगों का, जीवन की क्षणभंगुरता से परिचय कराया है और “आनंद” की कहानी से वे जुड़ाव महसूस करेंगे।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़