साजिद को हाऊसफुल 4 के निर्देशक का श्रेय न देने का फैसला स्टूडियो का: अक्षय कुमार

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 27, 2019   18:29
साजिद को हाऊसफुल 4 के निर्देशक का श्रेय न देने का फैसला स्टूडियो का: अक्षय कुमार

सलोनी चोपड़ा समेत तीन महिलाओं ने उन पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था। उसके बाद फरहाद सामजी ने इस फिल्म का निर्देशन पूरा किया। शुक्रवार को इस फिल्म का ट्रेलर जारी किया गया।

मुम्बई। सुपरस्टार अक्षय कुमार ने शुक्रवार को कहा कि साजिद खान को ‘हाऊसफुल’ फिल्म की चौथी कड़ी के लिए निर्देशक के तौर पर श्रेय नहीं देने का फैसला प्रोडक्शन हाउस नाडियाडवाला ग्रैंडसन का है। साजिद ने यौन उत्पीड़न के आरोप लगने के बाद पिछले साल अक्टूबर में ‘हाऊसफुल 4’ के निर्देशन का काम छोड़ दिया था। सलोनी चोपड़ा समेत तीन महिलाओं ने उन पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था। उसके बाद फरहाद सामजी ने इस फिल्म का निर्देशन पूरा किया। शुक्रवार को इस फिल्म का ट्रेलर जारी किया गया।

इसे भी पढ़ें: 2020-2021 में लेकर आ रहे हैं अक्षय कुमार 7 धमाकेदार फिल्में...

अक्षय ने इस हास्य फिल्म के ट्रेलर लांच पर संवाददाताओं से कहा, ‘‘साजिद ने इस फिल्म का 60 फीसद निर्देशन किया। लेकिन (उन्हें श्रेय नहीं देने का) फैसला स्टूडियो का है।’’ इस फिल्म में मुख्य किरदार करने वाले 51 वर्षीय अभिनेता ने कहा, ‘‘मी टू (उत्पीड़न की शिकार हुईं महिलाओं द्वारा अपनी पीड़ा का खुलासा करना) अभियान शुरू होने के बाद काफी बदलाव हुए हैं।

इसे भी पढ़ें: अक्षय कुमार ने किया मेट्रो से सफर, नहीं पहचान पाए साथ में खड़े लोग

साजिद नाडियाडवाला की कपंनी जैसी मैं जितनी भी कंपनियों को जानता हूं, वहां अब ऐसे मामलों से निपटने के लिए अधिकारी हैं। वे यह सुनिश्चित करते हैं कि कुछ गलत न हो। अब बहुत सुरक्षा है। हम नहीं चाहते कि किसी के साथ कोई दुर्व्यवहार हो।’’ जब उनसे पूछा गया कि क्या वह साजिद के साथ भविष्य में हाथ मिलायेंगे तो उन्होंने कहा, ‘‘ यदि वह हर चीज से बरी हो जाते हैं। मुझे नहीं मालूम है कि दरअसल हुआ क्या था। यदि वह बरी हो जाते हैं तो मैं निश्चित ही उनके साथ काम करूंगा।’’ इस फिल्म में अक्षय के अलावा बॉबी देओल, चंकी पांडे, जॉनी लीवर, रितेश देशमुख, कृति सेनन, पूजा हेगड़े, कीर्ति खरबंदा आदि हैं। फिल्म 25 अक्टूबर को रिलीज होगी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।