मोदी के बयान की प्रशंसा कर रहे बॉलीवुड का मन अब भी आशंकाओं से भरा क्यों नजर आ रहा है?

Pathaan Film
Prabhasakshi
गौतम मोरारका । Jan 23, 2023 1:36PM
जहां तक राज मेहता द्वारा निर्देशित ‘सेल्फी’ फिल्म की बात है तो आपको बता दें कि यह 2019 की मलयालम ब्लॉकबस्टर ‘ड्राइविंग लाइसेंस’ की आधिकारिक रीमेक है, जिसमें पृथ्वीराज सुकुमारन और सूरज वेंजारामूडू ने अभिनय किया है।

इन दिनों बॉयकॉट अभियान से परेशान बॉलीवुड के लोगों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हालिया टिप्पणी से कुछ राहत मिली है। जिसके चलते बॉलीवुड की हस्तियां प्रधानमंत्री की तारीफ करने में जुटी हुई हैं। इसी कड़ी में अभिनेता अक्षय कुमार ने भाजपा कार्यकर्ताओं से फिल्मों पर अनावश्यक टिप्पणी करने से बचने का आग्रह करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की प्रशंसा करते हुए कहा है कि प्रधानमंत्री ‘‘भारत के सबसे बड़े प्रभावशाली व्यक्ति’’ हैं और अगर उनके शब्द कुछ बदलाव ला सकते हैं तो यह फिल्म उद्योग के लिए बहुत अच्छा होगा।” दूसरी ओर देश के कई शहरों में शाहरुख खान की फिल्म पठान का विरोध भी जारी है जिसके चलते बॉलीवुड के लोग आशंकित भी हैं।

जहां तक अक्षय कुमार की टिप्पणी की बात है तो आपको बता दें कि अभिनेता अक्षय कुमार ने अपनी आगामी फिल्म ‘सेल्फी’ के ट्रेलर लॉन्च के मौके पर कहा, ‘‘और चीजें क्यों नहीं बदलनी चाहिए, क्योंकि हम बहुत कुछ से होकर गुजरते हैं। हम फिल्में बनाते हैं, केन्द्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड में जाते हैं, उन्हें पास करवाते हैं और फिर कोई कुछ कहता है और फिर गड़बड़ हो जाती है। लेकिन अब उन्होंने जो कहा है, मुझे लगता है कि यह हमारे लिए बेहतर होगा।’’

इसे भी पढ़ें: फिल्म Pathaan की रिलीज से पहले असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा ने पूछा शाहरुख खान कौन हैं

हम आपको बता दें कि पिछले सप्ताह भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में अपने संबोधन में प्रधानमंत्री मोदी ने पार्टी कार्यकर्ताओं को फिल्मों जैसे अप्रासंगिक मुद्दों पर अनावश्यक टिप्पणी करने से परहेज करने का सुझाव दिया था। फिल्म संस्था- इंडियन फिल्म एंड टेलीविजन डायरेक्टर्स एसोसिएशन (आईएफटीडीए) और फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंडिया सिने एम्प्लॉइज (एफडब्ल्यूआईसीई) ने भी प्रधानमंत्री मोदी की टिप्पणी की सराहना करते हुए इसे हिंदी फिल्म उद्योग में ‘‘आत्मविश्वास भरने’’ वाला बताया है।

जहां तक राज मेहता द्वारा निर्देशित ‘सेल्फी’ फिल्म की बात है तो आपको बता दें कि यह 2019 की मलयालम ब्लॉकबस्टर ‘ड्राइविंग लाइसेंस’ की आधिकारिक रीमेक है, जिसमें पृथ्वीराज सुकुमारन और सूरज वेंजारामूडू ने अभिनय किया है। हिंदी फिल्म में अक्षय कुमार के अलावा इमरान हाशमी, डायना पेंटी और नुसरत भरुचा भी हैं। फिल्म के निर्माता करण जौहर के धर्मा प्रोडक्शंस और अक्षय कुमार की केप ऑफ गुड फिल्म्स के साथ-साथ सुकुमारन के पृथ्वीराज प्रोडक्शंस और मैजिक फ्रेम्स हैं।

दूसरी ओर, पठान फिल्म के विरोध की बात करें तो विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ता गुजरात के सूरत शहर में एक सिनेमाघर में घुस गए और शाहरुख खान अभिनीत फिल्म 'पठान' के पोस्टर फाड़ डाले। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि दंगा करने के आरोप में विहिप के पांच कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया है। हम आपको बता दें कि 'बेशरम रंग' गाने में दीपिका पादुकोण को भगवा बिकनी में दिखाने के लिए फिल्म 'पठान' को आलोचनाओं का सामना करना पड़ रहा है। विश्व हिंदू परिषद सहित विभिन्न संगठनों के नेताओं ने 25 जनवरी को रिलीज होने वाली फिल्म पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है। सूरत की घटना के बारे में बताया जा रहा है कि यह शनिवार शाम सूरत के रांदेर इलाके में स्थित रूपाली सिनेमा में हुई।

उधर, असम के मुख्यमंत्री हिमंत विश्व शर्मा ने कहा है कि अभिनेता शाहरुख खान ने रविवार को फोन पर उनसे बात करके शहर में फिल्म ‘पठान’ के खिलाफ हो रहे प्रदर्शनों पर चिंता जतायी है। हिमंत विश्व शर्मा ने शाहरुख खान को आश्वासन दिया है कि उनकी सरकार फिल्म के खिलाफ हो रहे प्रदर्शनों के बारे में पता करेगी और सुनिश्चित करेगी कि फिर से कोई ‘‘अप्रिय घटना ना हो।’’ गौरतलब है कि शुक्रवार को गुवाहाटी शहर के नारेंगी सिनेमाघर पर बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने धावा बोल दिया था, जहां फिल्म का प्रदर्शन होना है। दक्षिणपंथी समूह के कार्यकर्ताओं ने फिल्म के पोस्टर फाड़ दिए थे और उन्हें आग के हवाले कर दिया था। इस बारे में जब मुख्यमंत्री से सवाल पूछा गया था तो उन्होंने कहा था कि ‘‘कौन हैं शाहरुख खान? मैं उनके या उनकी फिल्म पठान के बारे में कुछ नहीं जानता।’’ हालांकि इस बयान के एक दिन बाद ही शर्मा ने अपने ट्वीट में कहा है, ‘‘बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान ने मुझे फोन किया और आज तड़के दो बजे हमने बातचीत की। उन्होंने गुवाहाटी में अपनी फिल्म के प्रदर्शन के दौरान हुई घटना पर चिंता जतायी। मैंने उन्हें आश्वासन दिया कि कानून-व्यवस्था बनाए रखना राज्य सरकार की जिम्मेदारी है। हम पता करेंगे और सुनिश्चित करेंगे कि कोई अप्रिय घटना न हो।’’

हम आपको यह भी याद दिला दें कि हाल में जब उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ राज्य में निवेश आकर्षित करने के लिए मुंबई के दौरे पर गये थे तो नोएडा फिल्म सिटी पर विचार करने के लिए फिल्म उद्योग से जुड़े लोगों के साथ बैठक के दौरान अभिनेता सुनील शेट्टी ने आग्रह किया था कि वह बॉयकॉट अभियान को रुकवाने में मदद करें। योगी ने अभिनेता की बात को गौर से सुना था और अब जिस तरह प्रधानमंत्री मोदी का फिल्मों पर टिप्पणी करने से बचने का जो सुझाव सामने आया है उसका सोशल मीडिया पर असर देखने को मिल रहा है।

-गौतम मोरारका

अन्य न्यूज़