ऊंटनी के दूध की पेशकश के बाद आद्विक फूड्स इस इंडस्ट्री में पायोनियर के तौर पर उभरा है

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Aug 7 2019 3:49PM
ऊंटनी के दूध की पेशकश के बाद आद्विक फूड्स इस इंडस्ट्री में पायोनियर के तौर पर उभरा है
Image Source: Google

भारत में ऊंटनी के दूध के उत्पादन के बाजार में इनोवेटर के तौर पर आद्विक फूड्स ने ऊंटनी के दूध के आधार पर बने प्रोडक्ट्स का एक बुके लॉन्च किया है, ऊंटनी के दूध का पाउडर, चॉकलेट और स्किनकेयर रेंज शामिल हैं।

ऊंटनी के दूध का उत्पादन करने वाले भारत के पहले ब्रांड आद्विक फूड्स ने डेयरी क्षेत्र के दिग्गज अमूल को पीछे छोड़ दिया है। न केवल उसने तीन साल पहले ऊंटनी का दूध पेश किया, बल्कि शुरुआत से अब तक 2 लाख लीटर दूध की बिक्री भी कर चुका है। जहां अमूल काफी समय से ऊंटनी के दूध को लॉन्च करने पर विचार कर रहा है, वहीं आद्विक फूड्स ने ऊंटनी के दूध के प्रोडक्ट्स की विस्तृत रेंज के साथ भारत में ऊंटनी के दूध के बाजार में क्रांति ला दी है। भारत में ऊंटनी के दूध के उत्पादन के बाजार में इनोवेटर के तौर पर आद्विक फूड्स ने ऊंटनी के दूध के आधार पर बने प्रोडक्ट्स का एक बुके लॉन्च किया है, ऊंटनी के दूध का पाउडर, चॉकलेट और स्किनकेयर रेंज शामिल हैं।

इसे भी पढ़ें: आस्ट्रेलियाई, कनाडाई कोष एनआईआईएफ के जरिये करेंगे 2 अरब डालर तक निवेश

आद्विक फूड्स हितेश राठी के दिमाग की उपज है। उन्होंने ही सबसे पहले यह पहचाना कि दुनियाभर में सुपरफूड के तौर पर ऊंटनी के दूध की मांग बढ़ने वाली है। 2016 में सिंगल एसकेयू के साथ शुरू हुआ ब्रांड का सफर अब 40 एसकेयू में डील करता है। इसमें ऊंटनी के दूध का पाउडर, साबुन, चॉकलेट, फ्लेवर्ड मिल्क पाउडर, मॉइस्चराइजर, डे क्रीम और बॉडी बटर शामिल हैं।
 


ब्रांड के अनूठे प्रस्ताव पर आद्विक फूड्स के सह-संस्थापक श्रेय कुमार ने कहा, “ऊंटनी के दूध और उससे बने प्रोडक्ट्स ने अपने कई स्वास्थ्य लाभों के कारण भारत और दुनियाभर में ध्यान खींचा है। ऊंटनी के दूध में फैट्स कम होते हैं और अनसेचुरेटेड फैटी एसिड्स से समृद्ध होता है। इसके अलावा आवश्यक विटामिन और इंसुलिन भी इसमें अच्छी मात्रा में होता है। यह मधुमेह और ऑटिज्म जैसी पुराने विकारों से पीड़ित लोगों के लिए फायदेमंद है। प्रतिरक्षा प्रणाली में सुधार के साथ-साथ लैक्टोज इनटॉलरेंस वाले व्यक्तियों के लिए यह उपयुक्त है। इतने ज्यादा लाभों को देखते हुए हमारा मानना है कि ऊंट का दूध एक आदर्श डेयरी विकल्प है जिसे आने वाले वर्षों में लाखों उपभोक्ताओं द्वारा स्वीकार किया जाएगा। ”
 
आद्विक फूड्स ने हर महीने 1 लीटर ऊंट दूध बेचने के साथ काम शुरू किया था और वर्तमान में 5,000 ऑर्डर प्राप्त कर रहा है और हर महीने 10,000 लीटर ऊंटनी का दूध बेच रहा है। कंपनी बनने के बाद से इसने वैश्विक स्तर पर 2 लाख से अधिक ऑर्डर पूरे किए हैं। लगातार बढ़ती मांग के दम पर ब्रांड अगले 18-24 महीनों के भीतर अपनी बिक्री बढ़ाकर 25,000-30,000 लीटर प्रति माह करने की सोच रहा है।
कुमार ने कहा, “हमारा उद्देश्य देश में डेयरी फूड्स और दूध आधारित प्रोडक्ट्स को एक ऐसी प्रोडक्ट रेंज से बदलना चाहते हैं, जो कई श्रेणियों में फैला है। हमने इसकी शुरुआत जल्दी कर दी और इस आधार पर हम अपने उपभोक्ताओं के लिए ऊंटनी के दूध-आधारित प्रोडक्ट्स पेश कर भारत में इस बढ़ते बाजार के एक बड़े हिस्से पर कब्जा करना चाहते हैं।
 
भारतीय बाजार में गहरी पैठ बनाते हुए ब्रांड ने दिल्ली, मुंबई, चेन्नई, बेंगलुरु, हैदराबाद और पंजाब में डिस्ट्रिब्यूशन चैनल तैयार किया है। इसने अमेरिका, फिलीपींस और मलेशिया के डिस्ट्रिब्यूटर्स को ऊंटनी के दूध का पाउडर भी निर्यात किया है। आज आद्विक फूड्स के प्रोडक्ट उसकी वेबसाइट से और अमेजन, फ्लिपकार्ट, ई-बे, मिल्कबास्केट,, शॉपक्लूज,दूधवाला आदि सहित सभी प्रमुख ई-कॉमर्स प्लेटफार्मों पर उपलब्ध हैं। यह Amazon.com का एक प्रमुख विक्रेता है और अपने प्रोडक्ट्स को विश्व स्तर पर डिस्ट्रिब्यूट करता है। 


आद्विक फूड्स के बारे में हितेश राठी ने 2016 में राजस्थान-स्थित आद्विक फूड्स की स्थापना की और ऊंटनी के दूध का कारोबार शुरू किया। यह भारत की पहली ऐसी कंपनी है जो ऊंट के दूध और उससे बने प्रोडक्ट्स को प्रोसेस, ब्रांड और डिस्ट्रिब्यूशन करती है। यह एक बूटस्ट्रैप कंपनी है, जिसके कार्यालय दिल्ली, बीकानेर और भुज में भी है। आद्विक फूड्स बीकानेर और कच्छ के इलाकों से ऊंटनी का दूध जुटाती है। फिर अमेजन, ईबे, फ्लिपकार्ट, मिल्कबास्केट, शॉपक्लूज, स्नैपडील और दूधवाला आदि पर उपलब्ध हैं। वे Amazon.com पर प्रमुख विक्रेता हैं और वैश्विक स्तर पर प्रोडक्ट डिलीवर करते हैं।  
 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप