अडानी ग्रुप ने अंबुजा-एसीसी में होल्सिम की पूरी हिस्सेदारी खरीदी, दोनों कंपनियां मिलकर बनाती हैं सालाना 7 करोड़ टन सीमेंट

Adani
Creative Common
अभिनय आकाश । Sep 17, 2022 2:00PM
लेन-देन के बाद अडानी की अंबुजा सीमेंट्स में 63.15% और एसीसी में 56.69% की हिस्सेदारी होगी। अंबुजा सीमेंट्स के बोर्ड ने तरजीही आवंटन के माध्यम से अंबुजा में 20,000 करोड़ रुपये के निवेश को मंजूरी दी है।

अडानी फैमिली ने एंडेवर ट्रेड एंड इनवेस्टमेंट लिमिटेड ने अंबुजा सीमेंट्स लिमिटेड और एसीसी लिमिटेड का अधिग्रहण सफलतापूर्वक पूरा कर लिया है। इस अधिग्रहण में अंबुजा और एसीसी में होल्सिम की हिस्सेदारी शामिल है। इस डील से होल्सिम की बैलेंस शीट मजबूत होगी और कंपनी को सॉल्यूशन एंड प्रोडक्स में स्विस फ्रैंक के 5 बिलियन से अधिक के हालिया निवेश को लेकर अपनी अधिग्रहण रणनीति को जारी रखने में मदद मिलेगी। बयान में कहा गया है कि अंबुजा सीमेंट्स और एसीसी के लिए होल्सिम की हिस्सेदारी और खुली पेशकश का मूल्य $6.5 बिलियन है, जो अदानी द्वारा यह अब तक का सबसे बड़ा अधिग्रहण है।

इसे भी पढ़ें: अडानी ने बड़े बेटे करण को सौंपी सीमेंट कंपनी की कमान, ‘अंबुजा’ में 20,000 करोड़ की पूंजी डालने की मंजूरी

लेन-देन के बाद अडानी की अंबुजा सीमेंट्स में 63.15% और एसीसी में 56.69% की हिस्सेदारी होगी। अंबुजा सीमेंट्स के बोर्ड ने तरजीही आवंटन के माध्यम से अंबुजा में 20,000 करोड़ रुपये के निवेश को मंजूरी दी है। बयान में कहा गया है, अंबुजा को बाजार में विकास पर कब्जा करने में मदद करने के लिए। अडानी ग्रुप के बयान के मुताबिक इस सौदे में सेबी के नियमों के अनुसार दोनों संस्थानों में एक ओपेन ऑफर के साथ अंबुजा और एसीसी में होल्सिम की हिस्सेदारी का अधिग्रहण शामिल था। 

इसे भी पढ़ें: दुनिया के दूसरे सबसे अमीर शख्स बने गौतम अडानी, कुल संपत्ति 155.5 बिलियन डॉलर तक पहुंच गई

अडानी ग्रुप ने पिछले साल अडानी सीमेंट इंडस्ट्रीज के नाम से सीमेंट सेक्टर में दाखिल हुआ था। इस डील के बाद अडानी ग्रुप भारत का दूसरा सबसे बड़ा सीमेंट मेकर बन गया है। होलसिम कंपनी ने भारत में 17 साल पहले कारोबार शुरू किया था। इसे दुनिया की सबसे बड़ी सीमेंट कंपनी माना जाता है। 

अन्य न्यूज़