भारत गैस महाराष्ट्र की दो परियोजनाओं में 4,000 करोड़ रुपये का निवेश करेगी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 21, 2018   16:24
भारत गैस महाराष्ट्र की दो परियोजनाओं में 4,000 करोड़ रुपये का निवेश करेगी

भारत गैस रिसोर्सेज कंपनी (बीजीआरएल) ने शहरी गैस वितरण परियोजनाओं की बोली के नौवें दौर में महाराष्ट्र में उसे दिये गये दो भौगोलिक क्षेत्रों (जीए) में 4,000 करोड़ रुपये निवेश करने की योजना बनाई है।

मुंबई। भारत गैस रिसोर्सेज कंपनी (बीजीआरएल) ने शहरी गैस वितरण परियोजनाओं की बोली के नौवें दौर में महाराष्ट्र में उसे दिये गये दो भौगोलिक क्षेत्रों (जीए) में 4,000 करोड़ रुपये निवेश करने की योजना बनाई है। भारत गैस रिसोर्सेज, भारत पेट्रोलियम निगम (बीपीसीएल) की सहायक कंपनी है। बीजीआरएल ने नौवें दौर में 11 भौगोलिक क्षेत्रों के विकास करने का अधिकार प्राप्त किया था, जिनमें से दो यानी अहमदनगर-औरंगाबाद और सांगली-सातारा भौगोलिक क्षेत्र महाराष्ट्र में हैं। बीपीसीएल के कार्यकारी निदेशक (गैस) राजेंद्र नातेकर ने मंगलवार को संवाददाताओं से कहा, "हम महाराष्ट्र की इन दो परियोजनाओं के लिए करीब 4,000 करोड़ रुपये का निवेश करेंगे।

हम इन दो परियोजनाओं में 8–56 लाख परिवारों को पाइप से पीएनजी उपलब्ध कराने और 170 सीएनजी स्टेशन स्थापित करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।" उन्होंने आगे बताया कि महाराष्ट्र में अन्य भौगोलिक क्षेत्र (जीए) प्राप्त करने वाले यूनिसन एनविरो और महाराष्ट्र नेचुरल गैस राज्य में सीएनजी स्टेशनों की स्थापना और पीएनजी नेटवर्क फैलाने के लिए 4,000 करोड़ रुपये का अलग से निवेश करेंगे। नातेकर ने आगे बताया कि प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी गुरूवार को 10वें शहरी गैस लाइसेंसिंग दौर की पेशकश करेंगे जो सीएनजी और ‘पाइप्ड’ रसोई गैस कनेक्शन कवरेज को आबादी के 70 प्रतिशत तक बढ़ाने में मदद करेगा। इसके अलावा, मोदी कम से कम 62 शहरों में शहरी गैस नेटवर्क के लिए काम की शुरूआत का शिलान्यास भी करेंगे। इनके लिए लाइसेंस कुछ महीने पहले समाप्त बोली-प्रक्रिया के तहत दिए गए थे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।