बिहार की बिजली आपूर्ति क्षमता 2019-20 तक 11,346 मेगावाट हो जाएगी : मंत्री

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jul 16 2019 12:15PM
बिहार की बिजली आपूर्ति क्षमता 2019-20 तक 11,346 मेगावाट हो जाएगी : मंत्री
Image Source: Google

राज्य सरकार के सात निश्चय के तहत हर घर बिजली के अंतर्गत प्रदेश के बिजली रहित सभी गांवों और सभी 1,06,249 टोलों एवं बसावटों के इच्छुक परिवारों को बिजली कनेक्शन देने के लक्ष्य को 25 अक्टूबर 2018 को ही पूरा कर लिया गया।

पटना। बिहार के ऊर्जा मंत्री बिजेंद्र यादव ने सोमवार को कहा कि राज्य की कुल बिजली आपूर्ति क्षमता वर्तमान के 10,930 मेगावाट से बढ़कर 11,346 मेगावाट हो जाएगी जिससे प्रदेश के लोगों को निर्बाध एवं गुणवत्तापूर्ण बिजली मिल सके। बिहार विधानसभा में वित्तीय वर्ष 2019-20 के लिए ऊर्जा विभाग के 88 अरब 94 करोड़ 31 लाख 85 हजार रुपये के आय-व्यय पर चर्चा के बाद सरकार की ओर से जवाब देते हुए बिजेंद्र ने कहा कि राज्य की कुल बिजली आपूर्ति क्षमता वर्तमान के 10,930 मेगावाट से बढ़कर 11,346 मेगावाट की जाएगी जिससे प्रदेश के लोगों को निर्बाध एवं गुणवत्तापूर्ण बिजली मिल सकेगी।

इसे भी पढ़ें: पूर्वोत्तर और बिहार में 70 लाख लोग बाढ़ से प्रभावित, अब तक 44 लोगों की मौत

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के सात निश्चय के तहत हर घर बिजली के अंतर्गत प्रदेश के बिजली रहित सभी गांवों और सभी 1,06,249 टोलों एवं बसावटों के इच्छुक परिवारों को बिजली कनेक्शन देने के लक्ष्य को 25 अक्टूबर 2018 को ही पूरा कर लिया गया। वैसे इच्छुक उपभोक्ता जो नये टोलों अथवा बसावटों में बस रहे हैं उन्हें भी बिजली कनेक्शन देने के लिए आवश्यक कार्रवाई की जा रही है।
बिजेंद्र ने बताया कि 26 जून तक कृषि के पटावन के लिए प्राप्त वैध आवेदनों पर मिशन मोड में इस साल के दिसंबर तक बिजली कनेक्शन दे दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि बिजली उपभोक्ताओं एवं नये आवेदकों के लिए राज्य में सुविधा नामक सिंगल विंडो हेल्पडेस्क की शुरूआत पेसू प्रक्षेत्र के 12 प्रमंडलों में की गयी है। शेष बिजली आपूर्ति प्रमंडलों में भी इसे लागू कराया जाएगा। मंत्री के जवाब से असंतुष्ट विपक्षी सदस्य मंत्री के जवाब के बीच ही सदन से वॉकआउट कर गए थे।
 
इसे भी देखें-


 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video