बिन्नी बंसल मामले ने लिया नया मोड़, गंभीर दुराचरण का लगा था आरोप

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 24, 2018   11:50
बिन्नी बंसल मामले ने लिया नया मोड़, गंभीर दुराचरण का लगा था आरोप

फ्लिपकार्ट के सह-संस्थापक बिन्नी बंसल की शिकायत पर एक महिला के खिलाफ गैर-संज्ञेय मामला दर्ज किया गया लेकिन संक्षिप्त जांच के बाद मामले को बंद कर दिया गया। वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने यह जानकारी दी।

बेंगलुरू। फ्लिपकार्ट के सह-संस्थापक बिन्नी बंसल की शिकायत पर एक महिला के खिलाफ गैर-संज्ञेय मामला दर्ज किया गया लेकिन संक्षिप्त जांच के बाद मामले को बंद कर दिया गया। वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने शुक्रवार को यह कहा। बंसल ने ‘गंभीर व्यक्तिगत दुराचरण’ के आरोप को लेकर समूह के सीईओ पद छोड़ा है। अधिकारी ने कहा कि बंसल ने महिला द्वारा धमकी भरा मेल भेजने की शिकायत की थी। कंपनी के मालिक वालमार्ट इंकार्प ने पिछले मंगलवार को घोषणा की थी कि बंसल ने समूह के मुख्य कार्यपालक अधिकारी पद से इस्तीफा दे दिया है। गंभीर व्यक्तिगत दुराचरण के आरोप की स्वतंत्र जांच के बाद उन्होंने इस्तीफा दिया।

आरोप से इनकार करते हुए 37 साल के बिन्नी ने कहा था कि वह आरोप से स्तब्ध है। हालांकि, वह बड़े शेयरधारक और कंपनी के निदेशक मंडल में बने रहेंगे। अधिकारी ने कहा, ‘‘कोरोमंगला पुलिस ने महिला के खिलाफ गैर-संज्ञेय मामला दायर किया था। बंसल ने आरोप लगाया था कि महिला उन्हें धमकी भरे मेल भेज रही थी।’’ अधिकारी ने कहा कि कुछ दिन की जांच के बाद मामले को बंद कर दिया गया लेकिन इस बारे में विस्तार से कुछ नहीं बताया। गैर-संज्ञेय अपराध से तात्पर्य ऐसे अपराध से है जिसमें पुलिस के पास किसी व्यक्ति को खुद से गिरफ्तार करने का अधिकार नहीं है। इसके तहत उसे आरोपी को गिरफ्तार करने के लिये वारंट और जांच शुरू करने के लिये अदालत की मंजूरी लेनी होती है।

फ्लिपकार्ट का बहुराष्ट्रीय कंपनी वालमार्ट द्वारा अधिग्रहण किये जाने के महीने भर बाद ही बंसल को कंपनी से बाहर होना पड़ा। वह समूह के सीईओ के तौर पर काम कर रहे थे। बेंगलूरू की इस कंपनी में वालमार्ट ने 16 अरब डालर का निवेश किया।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।