बायोकॉन को कोरोना इलाज के उपकरण बनाने के लिए मिली DCGI की मंजूरी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 27, 2020   13:11
बायोकॉन को कोरोना इलाज के उपकरण बनाने के लिए मिली DCGI की मंजूरी

बायोकॉन को गंभीर कोविड-19 मरीजों के इलाज के उपकरण बनाने के लिए डीसीजीआई से मंजूरी मिल गई है।कंपनी ने बताया कि उसे कोविड-19 के मरीजों के इलाज में साइटोसॉर्ब के इस्तेमाल के लिए जनहित में आपातकालीन लाइसेंस मिला है।

नयी दिल्ली। जैव प्रौद्योगिकी क्षेत्र की प्रमुख कंपनी बायोकॉन ने बुधवार को कहा कि उसकी सहायक कंपनी को भारतीय दवा महानियंत्रक (डीसीजीआई) से कोविड-19 के गंभीर रोगियों के इलाज के लिए चिकित्सा उपकरण बनाने की मंजूरी मिली है।

इसे भी पढ़ें: जीई पावर इंडिया ने महेश पलाशीकर को अध्यक्ष नियुक्त किया

बायोकॉन ने एक बयान में कहा कि उसकी सहायक इकाई बायोकॉन बायोलॉजिक्स को रक्त शोधन उपकरण ‘साइटोसॉर्ब’ के लिए डीसीजीआई की मंजूरी मिली है, जो सघन देखभाल इकाई (आईसीयू) में भर्ती कोविड-19 के मरीजों में प्रो-इंफ्लेमेटरी साइटोकिन्स के स्तर को कम करता है। कंपनी ने बताया कि उसे कोविड-19 के मरीजों के इलाज में साइटोसॉर्ब के इस्तेमाल के लिए जनहित में आपातकालीन लाइसेंस मिला है। इसका इस्तेमाल 18 साल या इससे अधिक के मरीजों पर किया जाएगा। बायोकॉन ने कहा कि यह लाइसेंस कोविड-19 महामारी के काबू में आने तक प्रभावी है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।