GST अधीक्षक पर अधिक संपत्ति जुटाने का लगा आरोप, CBI ने दर्ज किया मामला

cbi-files-charge-sheet-against-gst-superintendent-in-corruption-case
अधिकारियों ने बताया कि एस के स्वामीनाथ और उनकी पत्नी क्रिस्टीन के खिलाफ एक अप्रैल, 2003 से 8 जनवरी, 2008 के दौरान 15 साल में ये संपत्तियां जुटाने के लिए मामला दर्ज किया गया है।

नयी दिल्ली। केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने एक जीएसटी अधीक्षक और उनकी पत्नी के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति का मामला दर्ज किया है। इन लोगों पर कथित रूप से अपनी आय से 47 प्रतिशत अधिक संपत्ति जुटाने का आरोप है। अधिकारियों ने बताया कि इस जीएसटी अधीक्षक के पास एक मर्सिडीज बेंज स्पोर्ट्स कारें, महंगी बाइकें और अन्य संपत्तियों का पता चला है। अधिकारियों ने बताया कि एस के स्वामीनाथ और उनकी पत्नी क्रिस्टीन के खिलाफ एक अप्रैल, 2003 से 8 जनवरी, 2008 के दौरान 15 साल में ये संपत्तियां जुटाने के लिए मामला दर्ज किया गया है। 

इसे भी पढ़ें: सभी वस्तुओं को जीएसटी के दायरे में लाने का सही समय: उद्योग जगत

सीबीआई ने कहा कि इस दंपति के पास 87.5 लाख रुपये की आय से अधिक की संपत्तियां हैं। इनमें प्रॉपर्टी, बैंक में जमा, महंगी योसंग जीटीर 250 आरसी मोटर बाइक, मर्सिडीज बेंज जीएलए 200 स्पोर्ट्स कार,कोरोला एल्टिस शामिल हैं। इस दौरान स्वामीनाथन की वेतन से आय 58.4 लाख रुपये रही। एजेंसी का आरोप है कि स्वामीनाथन ने इन 15 साल के दौरान 1.18 करोड़ रुपये की संपत्तियां बनाईं जबकि इस दौरान उनकी आय 1.84 करोड़ रुपये और खर्च 1.54 करोड़ रुपये रहा। इस तरह उनकी बचत 30.66 लाख रुपये ही बनती है। 

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़