सीसीआई ने रेडिएंट लाइफ केयर, मैक्स हेल्थकेयर के प्रस्तावित विलय को मंजूरी दी

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Mar 13 2019 6:05PM
सीसीआई ने रेडिएंट लाइफ केयर, मैक्स हेल्थकेयर के प्रस्तावित विलय को मंजूरी दी
Image Source: Google

अनलजीत सिंह की अगुवाई वाले मैक्स हेल्थकेयर के प्रवर्तक पद छोड़ देंगे। संयुक्त कंपनी में केकेआर की 51.90 प्रतिशत, अभय सोई की 23.20 प्रतिशत और मैक्स के प्रवर्तकों की सात प्रतिशत हिस्सेदारी होगी।

नयी दिल्ली। भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआई) ने रेडिएंट लाइफ केयर और मैक्स हेल्थकेयर के प्रस्तावित सौदे को मंजूरी दे दी है। दोनों कंपनियों ने प्रस्तावित विलय की घोषणा दिसंबर 2018 में की थी। विलय के बाद संयुक्त निकाय का मूल्यांकन 7,242 करोड़ रुपये होगा। सीसीआई ने मंगलवार को एक ट्वीट में कहा कि उसने मैक्स हेल्थकेयर इंस्टीट्यूट लिमिटेड, रेडिएंट लाइफ केयर प्राइवेट लिमिटेड और केकेआर एंड कंपनी की अनुषंगी कायक इंवेस्टमेंट्स होल्डिंग प्राइवेट लिमिटेड के प्रस्तावित सौदे को मंजूरी दे दी है।<

इसे भी पढ़ें: गिरावट के साथ बंद हुआ बाजार, सेंसेक्स 27 और निफ्टी 2 अंक फिसला



कंपनियों ने संयुक्त बयान में कहा कि विलय पूरा होने के बाद केकेआर के पास बहुलांश हिस्सेदारी होगी। रेडिएंट लाइफ केयर के प्रवर्तक अभय सोई संयुक्त कंपनी के चेयरमैन होंगे। अनलजीत सिंह की अगुवाई वाले मैक्स हेल्थकेयर के प्रवर्तक पद छोड़ देंगे।
संयुक्त कंपनी में केकेआर की 51.90 प्रतिशत, अभय सोई की 23.20 प्रतिशत और मैक्स के प्रवर्तकों की सात प्रतिशत हिस्सेदारी होगी।
संयुक्त कंपनी मैक्स हेल्थकेयर ब्रांड का लोगो में कुछ बदलाव के साथ इस्तेमाल करते रहेगी। सीसीआई ने दो अलग ट्वीट में मित्सुई द्वारा आईएचएच हेल्थकेयर बर्हाड के अतिरिक्त शेयरों तथा सीके होल्डिंग्स द्वारा फिएट क्रिसलर ऑटोमाबाइल्स के वाहनों के कल-पुर्जा कारोबार की खरीद को भी मंजूरी दे दी है।
 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story