मोदी सरकार की जनधन योजना से खातों में जमा राशि एक लाख करोड़ रुपये के पार

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jul 10 2019 2:26PM
मोदी सरकार की जनधन योजना से खातों में जमा राशि एक लाख करोड़ रुपये के पार
Image Source: Google

वित्त मंत्रालय के ताजा आंकड़े के मुताबिक तीन जुलाई की स्थिति के अनुसार 36.06 करोड़ खातों में 1,00,495.94 करोड़ रुपये थे। जनधन लाभार्थियों के खातों में जमा राशि निरंतर बढ़ रही है। इससे पहले छह जून को इन खातों में यह राशि 99,649.84 करोड़ रुपये तथा उससे एक सप्ताह पहले 99,232.71 करोड़ रुपये थी।

नयी दिल्ली। जनधन योजना के तहत खोले गये बैंक खातों में जमा राशि एक लाख करोड़ रुपये के आंकड़े को पार कर गयी है। मोदी सरकार ने पांच साल पहले इस योजना की शुरूआत की थी। वित्त मंत्रालय के ताजा आंकड़े के मुताबिक तीन जुलाई की स्थिति के अनुसार 36.06 करोड़ खातों में 1,00,495.94 करोड़ रुपये थे। जनधन लाभार्थियों के खातों में जमा राशि निरंतर बढ़ रही है। इससे पहले छह जून को इन खातों में यह राशि 99,649.84 करोड़ रुपये तथा उससे एक सप्ताह पहले 99,232.71 करोड़ रुपये थी। 

इसे भी पढ़ें: सेंसेक्स में हल्की बढ़त, टीसीएस में दो प्रतिशत से अधिक गिरावट

प्रधानमंत्री जनधन योजना (पीएमजेडीवाई) की शुरूआत 28 अगस्त 2014 को की गयी थी। इसका मकसद देश के उन लोगों को बैंक सुविधाएं उपलब्ध कराना है जो इससे वंचित थे। पीएमजेडीवाई के तहत खोला गया खाता मूल बचत बैंक जमा (बीएसबीडी) खाता है। इसके साथ रूपे डेबिट कार्ड और ओवरड्राफ्ट की सुविधा दी जाती है। 

इसे भी पढ़ें: भारतीय कारोबारी यूएई का स्थायी निवास पाने वाला पहला विदेशी बना



बीएसबीडी खाते में न्यूनतम राशि रखने की जरूरत नहीं है। अबतक 28.44 करोड़ खाताधारकों को रूपे डेबिट कार्ड जारी किये गये हैं। योजना की सफलता से उत्साहित सरकार ने 28 अगस्त 2018 के बाद खोले गये खातों के लिये दुर्घटना बीमा एक लाख रुपये से बढ़ाकर दो लाख रुपये किया है। इसके साथ ओवरड्राफ्ट की सीमा भी दोगुनी कर 10,000 रुपये कर दी गयी है।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप