रेड जोन में भी गैर जरूरी सामान की डिलिवरी से E-Commerce कंपनियों को मिल रहे धड़ाधड़ ऑर्डर

रेड जोन में भी गैर जरूरी सामान की डिलिवरी से E-Commerce कंपनियों को मिल रहे धड़ाधड़ ऑर्डर

एक ई-कॉमर्स कंपनी के सीनीयर एग्जिक्यूटिव के बयान के मुताबिक इस महामारी के वक्त कई चुनौतियों के बावजूद कारोबार में तेजी आना अच्छी खबर है। उन्होंने कहा कि अगर स्थिति ऐसी ही रही तो सिर्फ 4-5 हफ्तों में ही कारोबार सामान्य हो जाएगा।

देश में तेजी से बढ़ते कोरोना महमारी को देखते हुए लॉकडाउन 31 मई तक के लिए बढ़ाया गया है। सरकार ने चौथे लॉकडाउन के साथ ई-कॉमर्स कंपनियों (E-COMMERCE COMPANIES) को बड़ी राहत दी है। लॉकडाउन 4.0 के लिए जारी किए गए दिशानिर्देशों में गृह मंत्रालय ने ई-कॉमर्स कंपनियों को अब रेड जोन में भी गैर-जरूरतों की सामानों की डिलीवरी करने की मंजूरी दे दी है। इस छूट से ई-कॉमर्स कंपनियों का कारोबार वापस पटरी पर लौटने लगा है। बता दें कि जब से रेड जोन में डिलीवरी की मंजूरी दी गई है तब से ही ई-कॉमर्स कंपनियों को धड़ाधड़ ऑर्डर मिलने लगे है। आपको जानकर हैरानी होगी की ये ऑर्डर इतनी तेजी से आ रहे है कि इसका वॉल्यम कोरोना महमारी के पहले के लेवल के ऑर्डर वॉल्यम के 70 फीसदी तक पहुंच गया है।

इसे भी पढ़ें: एसएंडपी का अनुमान, वित्त वर्ष 2020-21 में भारतीय अर्थव्यवस्था में होगी 5 फीसद की कमी

 इंडस्ट्री के सूत्रों के मुताबिक अमेजन और फ्लिपकार्ट जैसे तमाम ई-कॉमर्स कंपनियों ने कोरोना महमारी से पहले के लेवल का करीब 70 फीसदी ऑर्डर वॉल्यम हासिल कर लिया है। देशभर में लगे कोरोना लॉकडाउन से ई-कॉमर्स कंपनियों को मिली इस राहत से काफी मुनाफा हुआ है। इसकी वजह से उघोग जगत दोबारा पटरी पर लौट रही है। खास कर के ई-कॉमर्स कंपनियों को कोरोना संकट से पहले के मुकाबले 70 फीसदी ऑर्डर मिलना काफी राहत की खबर है। इससे पता चलता है कि खरीददार मार्केट में वापस लौटने लगे है। 

इसे भी पढ़ें: मारुति सुजुकी इंडिया का HDFC बैंक के साथ समझौता, आसानी से मिलेगा कार लोन

एक  ई-कॉमर्स कंपनी के सीनीयर एग्जिक्यूटिव के बयान के मुताबिक इस महामारी के वक्त कई चुनौतियों के बावजूद कारोबार में तेजी आना अच्छी खबर है। उन्होंने कहा कि अगर स्थिति ऐसी ही रही तो सिर्फ 4-5 हफ्तों में ही कारोबार सामान्य हो जाएगा। बता दें कि लॉकडाउन 3 में ई-कॉमर्स कंपनियों को सिर्फ जरूरतों के सामानों की डिलीवरी दो जोन ग्रीन और ऑरेंज जोन में करने की इजाजत थी लेकिन लॉकडाउन 4 में मिली राहत से अब ये सेक्टर रेड जोन में भी गैर-जरूरत सामानों की भी डिलीवरी कर रहे है। इस राहत से ई-कॉमर्स कंपनियों के  ऑनलाइन सामानों की बिक्री तेजी से बढ़ी है। कंटेनमेंट को छोड़ अब ये कपंनियां हर जगह कोई भी सामान डिलीवर कर सकते है। ई-कॉमर्स कंपनी के सीनीयर एग्जिक्यूटिव के मुताबिक कंपनियों को अभी भी ज्यादा जरूरत के सामानों का ऑर्डर मिल रहा है।