मंदी का खतरा बढ़ने के बावजूद European Central Bank ने ब्याज दर को रिकॉर्ड उच्चस्तर पर पहुंचाया

european central bank
प्रतिरूप फोटो
Creative Commons licenses

ब्याज दर में 0.25 प्रतिशत की वृद्धि ऐसे समय की गई है जबकि अमेरिकी फेडरल रिजर्व सहित दुनियाभर के केंद्रीय बैंक यह आकलन करने की कोशिश कर रहे हैं कि ‘मुद्रास्फीति-रोधी’ दवा कितनी दी जा सकती है। और कब दरों में वृद्धि को रोका जा सकता है।

फ्रैंकफर्ट। यूरोपीय केंद्रीय बैंक ने अत्यधिक उच्च मुद्रास्फीति के खिलाफ अपनी लड़ाई तेज करते हुए बृहस्पतिवार को प्रमुख ब्याज दर को बढ़ाकर रिकॉर्ड उच्चस्तर पर पहुंचा दिया। यूरोपीय केंद्रीय बैंक ने यह कदम ऐसे समय उठाया है जबकि आशंका जताई जा रही है कि कर्ज की ऊंची लागत से अर्थव्यवस्था मंदी की गिरफ्त में जा सकती है।

ब्याज दर में 0.25 प्रतिशत की वृद्धि ऐसे समय की गई है जबकि अमेरिकी फेडरल रिजर्व सहित दुनियाभर के केंद्रीय बैंक यह आकलन करने की कोशिश कर रहे हैं कि ‘मुद्रास्फीति-रोधी’ दवा कितनी दी जा सकती है। और कब दरों में वृद्धि को रोका जा सकता है।

डिस्क्लेमर: प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


All the updates here:

अन्य न्यूज़