तेजी से व्यापार प्रतिबंधात्मक कदम उठा रहे हैं जी-20 देश: डब्ल्यूटीओ

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 23, 2018   10:42
तेजी से व्यापार प्रतिबंधात्मक कदम उठा रहे हैं जी-20 देश: डब्ल्यूटीओ

डब्ल्यूटीओ ने बृहस्पतिवार को एक रिपोर्ट में कहा कि यह बताता है कि हर महीने औसतन आठ प्रतिबंधात्मक कदम उठाये गये। यह पिछली समीक्षा अवधि (अक्टूबर 2017 से मई 2018 के मध्य तक) के दौरान छह उपायों के मुकाबले अधिक है।

नयी दिल्ली। विकसित एवं विकासशील देशों का संगठन जी-20 के सदस्य देशों ने इस साल 16 मई से 15 अक्टूबर के बीच उच्च सीमा शुल्क और आयात पाबंदी समेत 40 नये व्यापार प्रतिबंध से जुड़े कदम उठाये। विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) की एक रिपोर्ट में यह कहा गया है।

डब्ल्यूटीओ ने बृहस्पतिवार को एक रिपोर्ट में कहा कि यह बताता है कि हर महीने औसतन आठ प्रतिबंधात्मक कदम उठाये गये। यह पिछली समीक्षा अवधि (अक्टूबर 2017 से मई 2018 के मध्य तक) के दौरान छह उपायों के मुकाबले अधिक है। 

रिपोर्ट के मुताबिक जी-20 अर्थव्यवस्थाओं ने आलोच्य अवधि में 40 नये व्यापार प्रतिबंधात्मक उपायों के लिये आवेदन किये। इसमें शुल्क में वृद्धि, आयात पाबंदी और निर्यात शुल्क में वृद्धि शामिल हैं। जिनेवा स्थित डब्ल्यूटीओ के महानिदेशक रोबर्टो एजेवेदो ने कहा कि रिपोर्ट के तथ्य जी-20 सरकारों और समूचे अंतरराष्ट्रीय समुदाय के लिये गंभीर चिंता का कारण होना चाहिए। उन्होंने कहा, ‘‘इसमें और वृद्धि एक वास्तविक चुनौती है। अगर मौजूदा स्थिति जारी रही, आर्थिक जोखिम बढ़ेगा। इसका वृद्धि, रोजगार और उपभोक्ता कीमतों पर प्रभाव पड़ेगा।’’ एजेवेदो ने कहा कि डब्ल्यूटीओ स्थिति में बदलाव लाने के लिये कदम उठा रहा है लेकिन समाधान के लिये राजनीतिक इच्छाशक्ति और जी-20 से अगुवाई की जरूरत होगी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।



Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

बिज़नेस

झरोखे से...