Prabhasakshi
बुधवार, सितम्बर 19 2018 | समय 09:02 Hrs(IST)

उद्योग जगत

अगले 30 साल रहेगा स्वर्ण बाजार का जलवा कायम: डब्ल्यूजीसी

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jun 15 2018 8:43AM

अगले 30 साल रहेगा स्वर्ण बाजार का जलवा कायम: डब्ल्यूजीसी
Image Source: Google

मुंबई। वैश्विक स्वर्ण बाजार पर काम करने वाले एक निकाय के अनुसार चीन और भारत की अर्थव्यवस्थाओं के विस्तार के साथ सोने में अगले तीन दशक तक चमक तुलनात्मक रूप से बनी रहेगी। चीन के 2048 तक दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने और भारत उससे ठीक पीछे रहने का अनुमान है।

विश्व स्वर्ण परिषद (डब्ल्यूजीसी) ने अपनी एक ताजा रिपोर्ट- 'दीर्घकालिक वैश्विक निवेश चुनौतियों का सामना-अप्रैल 2018' में कहा है कि सोने की मांग में आभूषणों की हिस्सेदारी 50 प्रतिशत के आसपास है। उभरती हुई अर्थव्यवस्थाओं खासकर भारत और चीन की की आर्थिक व्यवस्थाओं में लगातार विस्तार तथा मध्यम वर्ग के उपभोक्ताओं का अनुपात बढने से सोने को समर्थन मिलेगा। भारत और चीन सोना के सबसे बड़े खरीदार है।

हालांकि, भू - राजनीतिक दृष्टि से अगले तीन दशाक कठिन होने से सोने को लेकर उत्साह के सामने चुनौतियां भी आएंगी। रिपोर्ट में कहा गया है कि अमेरिका और चीन के बीच व्यापार टकराव जारी रहने की उम्मीद है। यूरोप को लेकर इसमें कहा गया है कि उसे आबादी बढ़ती आयु और घटती जनसंख्या की समस्या का सामना करना पड़ सकता है। उसे अफ्रीका से अपने यहां पलायन की समस्या का भी सामना करना पड़ सकता है।
 
परिषद ने कहा कि बढ़ती आय से प्रेरित सोने में निवेश मांग में सकारात्मक रुख रहेगा हालांकि, इसमें उतार-चढ़ाव होता रहेगा। आर्थिक तेजी और राजनीतिक तनाव के मद्देनजर अगले दशकों में सोने में निवेश का मुख्य स्त्रोत बना रहेगा। डब्ल्यूजीसी की राय में प्रौद्योगिकी में सोने का उपयोग भी बढ़ने की उम्मीद है।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप


शेयर करें: