बकाया वसूली के लिये जेट एयरवेज के दफ्तर को बेचेगी HDFC

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: May 9 2019 6:15PM
बकाया वसूली के लिये जेट एयरवेज के दफ्तर को बेचेगी HDFC
Image Source: Google

कंपनी ने बकाया कर्ज की वसूली के लिये यह कदम उठाया है। जेट एयरवेज का परिचालन 17 अप्रैल से अस्थायी रूप से बंद है। एयरलाइन के ऊपर एचडीएफसी का 414 करोड़ रुपये बकाया है।

नयी दिल्ली। मकान, दुकान और जमीन के लिये कर्ज देने वाली एचडीएफसी ने संकट में फंसी जेट एयरवेज के दफ्तर को बिक्री के लिये रखा है। इसके लिये आरक्षित मूल्य 245 करोड़ रुपये रखा गया है। कंपनी ने बकाया कर्ज की वसूली के लिये यह कदम उठाया है। जेट एयरवेज का परिचालन 17 अप्रैल से अस्थायी रूप से बंद है। एयरलाइन के ऊपर एचडीएफसी का 414 करोड़ रुपये बकाया है।

भाजपा को जिताए

एचडीएफसी ने सार्वजनिक नोटिस में कहा कि कर्जदार (जेट एयरवेज) 414.80 करोड़ रुपये का बकाया लौटाने में विफल रही। अत: एचडीएफसी लि. गिरवी रखी अचल संपत्ति को भुनाने की हकदार है।दफ्तर मुंबई के उपनगरी वित्तीय केंद्र बांद्रा कुर्ला कॉम्प्लेक्स में 52,775 वर्ग फुट में बना (कारपेट एरिया) हुआ है। यह जेट एयरवेज गोदरेज बीकेसी इमारत की चौथी मंजिल पर है।
सार्वजनिक नोटिस के अनुसार कार्यालय के लिये आरक्षित मूल्य 245 करोड़ रुपये है और इसकी ई-नीलामी 15 मई को होगी। जेट एयरवेज वित्तीय समस्याओं से जूझ रही है। कंपनी ने कर्मचारियों के वेतन समेत कई भुगतान में चूक की है। समाधान योजना के तहत भारतीय स्टेट बैंक की अगुवाई वाले बैंकों के समूह ने एयरलाइन में हिस्सेदारी बिक्री के लिये बोली आमंत्रित की है।


रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video