हेनले पासपोर्ट इंडेक्स में सुधरी भारत की स्थिति, अब भारतीय बिना वीजा कर सकते हैं 59 देशों का सफर

हेनले पासपोर्ट इंडेक्स में सुधरी भारत की स्थिति, अब भारतीय बिना वीजा कर सकते हैं 59 देशों का सफर

साल 2006 से हर साल हेलने पासपोर्ट इंडेक्स पासपोर्ट को लेकर रैंकिंग जारी करता है। इससे जानकारी मिलती है कि किस देश का पासपोर्ट ज्यादा मजबूत और आजाद है। पिछले 2 सालों से कोविड के वक्त में यह रैंकिंग और भी ज्यादा आवश्यक हो गई है।

हेनले पासपोर्ट इंडेक्स में भारत की पासपोर्ट रैंकिंग सुधरी है। इस पासपोर्ट इंडेक्स में भारतीय पासपोर्ट रैंकिंग में सात पायदान का सुधार हुआ है। अब भारतीय पासपोर्ट इंडेक्स में सात पायदान चढ़कर 83वें स्थान पर पहुंच गया है। आपको बता दें इस रैंकिंग में जापान और सिंगापुर नंबर एक पर हैं। भारतीय पासपोर्ट रैंकिंग में सुधार के चलते अब भारतीय पासपोर्ट धारक बिना वीजा के 59 देशों में सफर कर सकते हैं। इस रैंकिंग में सबसे फिसड्डी देशों की बात करें तो पाकिस्तान की हालत सोमालिया और यमन से भी बदतर है।

हेलने पासपोर्ट इंडेक्स को इंटरनेशनल एयर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन द्वारा जारी किए गए आंकड़ों को ध्यान में रखकर दुनिया के सबसे ताकतवर पासपोर्ट की रैंकिंग की सूची बनाता है। किसी भी देश के पासपोर्ट की ताकत इस बात पर देखी जाती है कि, उस देश के पासपोर्ट से पासपोर्ट धारक कितने देशों में बिना वीजा सफर कर सकते हैं। आपको बता दें अब भारत के पासपोर्ट से बिना वीजा के 59 देशों का सफर किया जा सकता है। सिंगापुर और जापान की दुनिया भर में सबसे ताकतवर पासपोर्ट रैंकिंग है। यह दोनों ही पहले स्थान पर काबिज हैं। इन दोनों ही देशों के पासपोर्ट से बिना वीजा 192 देशों में सफर किया जा सकता है।

 भारत के पासपोर्ट के सहारे आप  59 देशों में बिना वीजा सफर तो कर सकते हैं। लेकिन इसका भी समय तय किया जाता है कि आप कितने समय तक बिना वीजा के दूसरे देश में रह सकते हैं। भारत के पासपोर्ट के सहारे आप जिन 59 देशों में बिना वीजा के घूम सकते हैं उसमें नेपाल, भूटान, मालदीव जैसे कई और देश शामिल हैं।

 इस पासपोर्ट रैंकिंग में सबसे बदतर हालात पाकिस्तान की है। वह इस पासपोर्ट रैंकिंग में 108वें नंबर है। पाकिस्तान के वीजा पर यात्री बस 31 देशों की ही यात्रा बिना वीजा के कर सकते हैं। इस पासपोर्ट रैंकिंग में उत्तर कोरिया 104, भारत का पड़ोसी देश नेपाल 105, सोमालिया 106 और यमन 107वें नंबर पर हैं।

 साल 2006 से हर साल हेलने पासपोर्ट इंडेक्स पासपोर्ट को लेकर रैंकिंग जारी करता है। इससे जानकारी मिलती है कि किस देश का पासपोर्ट ज्यादा मजबूत और आजाद है। पिछले 2 सालों से कोविड के वक्त में यह रैंकिंग और भी ज्यादा आवश्यक हो गई है। लेकिन आपको बता दें इस पासपोर्ट रैंकिंग को बनाते समय कोरोना वायरस महामारी के प्रतिबंधों को इस में जगह नहीं दी गई है।