भारतीय कंपनियों का विदेशी कर्ज फरवरी में 9 प्रतिशत घटकर 2.81 अरब डॉलर

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Mar 29 2019 4:42PM
भारतीय कंपनियों का विदेशी कर्ज फरवरी में 9 प्रतिशत घटकर 2.81 अरब डॉलर
Image Source: Google

आयल इंडिया ने विदेशी निवेश के लिए 55 करोड़ डॉलर जुटाए, इंडियन आयल कॉरपोरेशन ने कार्यशील पूंजी कर्ज के रूप में 40 करोड़ डॉलर, श्रीराम ट्रांसपोर्ट फाइनेंस कंपनी ने उप ऋण (सब-लेंडिंग) के लिए 40 करोड़ डॉलर जुटाए

मुंबई। भारतीय कंपनियों का विदेशी ऋण फरवरी महीने में नौ प्रतिशत घटकर 2.81 अरब डॉलर पर आ गया। भारतीय रिजर्व बैंक के आंकड़ों में यह जानकारी दी गई। घरेलू कंपनियों ने फरवरी, 2018 में विदेशी वाणिज्यिक कर्ज (ईसीबी) के जरिये 3.1 अरब डॉलर जुटाए थे। फरवरी में किसी भी कंपनी ने विदेशी बाजार से रुपये वाले बांड मार्ग से धन नहीं जुटाया। आंकड़ों के अनुसार माह के दौरान पूरा कोष स्वत: मंजूर मार्ग से जुटाया है। 

भाजपा को जिताए

इसे भी पढ़ें: लंबे समय से बीमार नवाज शरीफ को इलाज के लिए आखिरकार मिली जमानत

आयल इंडिया ने विदेशी निवेश के लिए 55 करोड़ डॉलर जुटाए, इंडियन आयल कॉरपोरेशन ने कार्यशील पूंजी कर्ज के रूप में 40 करोड़ डॉलर, श्रीराम ट्रांसपोर्ट फाइनेंस कंपनी ने उप ऋण (सब-लेंडिंग) के लिए 40 करोड़ डॉलर जुटाए और महिंद्रा एंड महिंद्रा फाइनेंशियल सर्विसेज ने उप ऋण के लिए 30 करोड़ डॉलर जुटाए।

इसे भी पढ़ें: बीमारियों से जूझ रहे नवाज शरीफ को कोर्ट से झटका, नहीं मिलेगी जमानत



वहीं टाटा कैपिटल हाउसिंग फाइनेंस ने 20 करोड़ डॉलर, एचपीसीएल राजस्थान रिफाइनरी ने 14.07 करोड़ डॉलर ओर बार्कलेज ग्लोबल सर्विसेज सेंटर ने 13.01 करोड़ डॉलर जुटाए। 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप