देश के लिए अच्छी खबर, अर्थव्यवस्था ने पकड़ी रफ्तार, पहली तिमाही में 13.5 फ़ीसदी रही GDP

GDP
Creative Common
अंकित सिंह । Aug 31, 2022 7:12PM
आर्थिक मामलों के सचिव अजय सेठ ने बताया कि सकल स्थिर पूंजी निर्माण अप्रैल-जून तिमाही में 34.7 प्रतिशत रहा है जो कि दस साल में सबसे अधिक है। वित्त सचिव टी वी सोमनाथन ने कहा कि सरकार चालू वित्त वर्ष में राजकोषीय घाटा जीडीपी के 6.4 प्रतिशत पर रखने के लक्ष्य को हासिल करने की राह पर है।

भारत के लिए अच्छी खबर है। कोरोना महामारी और रूस-यूक्रेन युद्ध के बीच भी भारतीय अर्थव्यवस्था पटरी पर लौटते दिखाई दे रही है। वित्त वर्ष 2022 की पहली तिमाही में भारतीय अर्थव्यवस्था ने 13.5 फ़ीसदी की दर से विकास दर हासिल किया है। वहीं, 2021-22 की पहली तिमाही में 20.1 फ़ीसदी जीडीपी रहा था। तो वही चौथी तिमाही में यहां 4.1 फ़ीसदी पर चला गया था। देश के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की वृद्धि दर चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-जून तिमाही में 13.5 प्रतिशत रही। आर्थिक मामलों के सचिव अजय सेठ ने बताया कि सकल स्थिर पूंजी निर्माण अप्रैल-जून तिमाही में 34.7 प्रतिशत रहा है जो कि दस साल में सबसे अधिक है। वित्त सचिव टी वी सोमनाथन ने कहा कि सरकार चालू वित्त वर्ष में राजकोषीय घाटा जीडीपी के 6.4 प्रतिशत पर रखने के लक्ष्य को हासिल करने की राह पर है।

इसे भी पढ़ें: 'भारत अब कमजोर नहीं रहा', राजनाथ सिंह बोले- हमें अपने सैनिकों पर पूरा भरोसा, हम वसुधैव कुटुंबकम में करते हैं विश्वास

वित्त सचिव ने बतया कि अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर चालू वित्त वर्ष (2022-23) में सात प्रतिशत से अधिक रहेगी। 13.5% जीडीपी संख्या एक ऐसा प्रदर्शन है जो हमें लगता है कि आने वाले वित्तीय वर्ष में अर्थव्यवस्था के भविष्य के लिए अच्छा है। जीडीपी पूर्व महामारी के स्तर को 4% पार कर गया है। कई विश्लेषकों ने तुलनात्मक आधार को देखते हुए देश की आर्थिक वृद्धि दर दहाई अंक में रहने का अनुमान जताया था। रेटिंग एजेंसी इक्रा ने जीडीपी वृद्धि दर चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में 13 प्रतिशत जबकि भारतीय स्टेट बैंक की एक रिपोर्ट में इसके 15.7 प्रतिशत रहने की संभावना जतायी गयी थी। भारतीय रिजर्व बैंक ने इस महीने मौद्रिक नीति समीक्षा में 2022-23 की पहली तिमाही में जीडीपी वृद्धि दर करीब 16.2 प्रतिशत रहने का अनुमान लगाया था। चीन की वृद्धि दर 2022 की अप्रैल-जून तिमाही में 0.4 प्रतिशत रही है।

अन्य न्यूज़