Twitter को 44 अरब डॉलर से कम कीमत में खरीदेंगे Elon Musk, स्पैम बोट पर दिया अपडेट

elon musk
Google common license
एलन मस्क ने 44 अरब डॉलर से कम कीमत में ट्विटर खरीदने के संकेत दिए है।‘ब्लूमबर्ग न्यूज’ की एक खबर के मुताबिक, मियामी में आयोजित एक ‘टेक’ सम्मेलन में मस्क ने कहा कि ट्विटर के अधिग्रहण के संबंध में एक कम कीमत वाला व्यवहार्य समझौता संभव है।

डेट्रॉयट (अमेरिका)। टेस्ला के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) एलन मस्क ने सोमवार को संकेत दिए कि वह माइक्रोब्लॉगिंग वेबसाइट ट्विटर के अधिग्रहण के लिए 44 अरब डॉलर से कम राशि का भुगतान करना चाहेंगे। मस्क ने पिछले महीने साइट की खरीदारी के लिए 44 अरब डॉलर की पेशकेश की थी। ‘ब्लूमबर्ग न्यूज’ की एक खबर के मुताबिक, मियामी में आयोजित एक ‘टेक’ सम्मेलन में मस्क ने कहा कि ट्विटर के अधिग्रहण के संबंध में एक कम कीमत वाला व्यवहार्य समझौता संभव है। वेबसाइट ने एक ट्विटर यूजर द्वारा प्रसारित सम्मेलन के लाइव वीडियो के आधार पर यह रिपोर्ट प्रकाशित की है।

इसे भी पढ़ें: बिलावल 18 मई से अमेरिका की दो दिवसीय यात्रा पर जाएंगे

रिपोर्ट के अनुसार, ‘ऑल इन समिट’ में मस्क ने अनुमान जताया कि ट्विटर पर मौजूद 22.9 करोड़ अकाउंट में से कम से कम 20 फीसदी अकाउंट ‘स्पैम बोट’ द्वारा संचालित किए जा रहे हैं। ‘स्पैम बोट’ इंटरनेट पर मौजूद उन स्वचालित सॉफ्टवेयर को कहते हैं, जो उपयोगकर्ताओं को बड़ी संख्या में स्पैम संदेश भेजते हैं या फिर ऑनलाइन मंचों पर बड़ी तादाद में स्पैम संदेश पोस्ट करते हैं। स्पैम संदेश का स्रोत इन्हें प्राप्त करने वाले लोगों को भी मालूम नहीं होता है।

इसे भी पढ़ें: क्यूबा में अपनी हवाई सेवा का विस्तार करेगा अमेरिका

मस्क की यह टिप्पणी ऐसे समय में आई है, जब उन्होंने ट्विटर के सीईओ पराग अग्रवाल के उन ट्वीट को लेकर उन पर निशाना साधा है, जिनमें कहा गया है कि ट्विटर ‘स्पैम बोट’ से निपटने की कवायद में जुटा है और साइट पर मौजूद पांच फीसदी से भी कम अकाउंट फर्जी हैं। कुल मिलाकर, सम्मेलन में मस्क द्वारा की गई टिप्पणियों से विश्लेषक अटकलें लगा रहे हैं कि टेस्ला के सीईओ या तो इस समझौते से पीछे हटना चाहते हैं या फिर कम कीमत में ट्विटर के अधिग्रहण की कवायद में जुटे हैं। उन्होंने इसके पीछे टेस्ला के शेयर की कीमतों में आई भारी गिरावट को जिम्मेदार ठहराया है, जिनमें से कुछ का इस्तेमाल मस्क ट्विटर के अधिग्रहण के लिए कोष जुटाने में करने वाले थे। मस्क ने 14 अप्रैल को ट्विटर को 54.20 डॉलर प्रति शेयर की कीमत पर खरीदने की पेशकश की थी। हालांकि, शुक्रवार को मस्क ने ट्वीट कर बताया कि उन्होंने ट्विटर के अधिग्रहण की योजना अस्थाई रूप से टाल दी है, क्योंकि वह साइट पर मौजूद फर्जी अकाउंट की संख्या आंकने की कोशिशों में जुटे हैं।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़