UP RERA बीच में अटकी परियोजनाओं को खत्म करने के लिए दे सकता है 12 माह का समय

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अगस्त 27, 2020   11:48
UP RERA बीच में अटकी परियोजनाओं को खत्म करने के लिए दे सकता है 12 माह का समय

नारेडको ने उ.प्र. रेरा से परियोजनाओं को पूरा करने के लिये 12 माह का विस्तार देने का आग्रह किया है।नारेडको के चेयरमैन आर के अरोड़ा ने कहा, इन परियोजनाओं को इसी वर्ष में पूरा किया जाना था लेकिन मार्च में कोविड- 19 महामारी के फैलने के कारण सामग्री की आपूर्ति में बाधा होने से निर्माण कार्य प्रभावित हुआ है।

नोएडा (उत्तर प्रदेश)।  बिल्डरों के संगठन नारेडको ने उत्तर प्रदेश रीयल एस्टेट नियामक प्राधिकरण (उ.प्र. रेरा) से कोविड- 19 महामारी के मद्देनजर राज्य में निर्माणाधीन परियोजनाओं को पूरा करने के लिये समय सीमा में 12 माह का विस्तार दिये जाने का आग्रह किया है। उत्तर प्रदेश नारेडको के चेयरमैन आर के अरोड़ा ने कहा, इन परियोजनाओं को इसी वर्ष में पूरा किया जाना था लेकिन मार्च में कोविड- 19 महामारी के फैलने के कारण सामग्री की आपूर्ति में बाधा होने, प्रवासी मजदूरों के बाहर चले जाने की वजह से निर्माण कार्य प्रभावित हुआ है। उन्होंने कहा, ‘‘इस फैसले से उत्तर प्रदेश के राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के इलाके में करीब एक लाख आवासीय इकाइयों और पूरे उत्तर प्रदेश में तीन से चार लाख इकाइयों पर असर पड़ेगा।’’

इसे भी पढ़ें: बाजार में बढ़त, सेंसेक्स 200 अंकों से ज्यादा चढ़ा;निफ्टी 11,600 के पार

राष्ट्रीय रीयल एस्टेट विकास परिषद (नारेडको) की उत्तर प्रदेश इकाई ने इस संबंध में उत्तर प्रदेश के रेरा सचिव अबरार अहमद को सोमवार को इस संबंध में पत्र लिखा है। नारेडको केन्द्रीय शहरी मामलों के मंत्रालय के तहत एक स्वायत निकाय है। उ.प्र. रेरा ने हालांकि, कहा है कि मामले में किसी निर्णय पर पहुंचने के लिये कानूनी प्रक्रिया के तहत ही कोई कदम उठायेगा। उ.प्र. रेरा के सचिव ने कहा, ‘‘इस तरह की स्थिति में विस्तार देने के बारे में कानून में कोई प्रावधान नहीं है। रेरा कानून के तहत काम करेगा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।