हवाई किराये की नियमित निगरानी के लिए तंत्र बनाने का आदेश दिया : पुरी

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 21, 2019   16:36
हवाई किराये की नियमित निगरानी के लिए तंत्र बनाने का आदेश दिया : पुरी

पुरी ने कहा कि सरकार विमानन टरबाइन ईंधन पर ऊंचे कर से चिंतित है। मंत्री ने कहा कि उन्होंने राज्य सरकारों से ईंधन पर से उत्पाद कर को कम करने का अनुरोध किया है। उन्होंने कहा, ‘‘एयरलाइनों के टरबाइन ईंधन कर ज्यादा हैं।

नयी दिल्ली। नागर विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने शुक्रवार को कहा कि उन्होंने देश में हवाई किराये की नियमित निगरानी के लिए तंत्र बनाने का आदेश दिया है। पुरी ने कहा कि फिलहाल किराये को नियंत्रित करने की सरकार की कोई मंशा नहीं है। मंत्री ने यहां पत्रकारों से कहा, ‘‘ मैंने नियमित रूप से हवाई किराये की निगरानी के लिए नागरिक उड्डयन मंत्रालय और डीजीसीए (नागर विमानन महानिदेशालय) में एक तंत्र स्थापित करने का आदेश दिया है। हम (प्राप्त हुए) डेटा का इस्तेमाल उनसे (एयरलाइनों) से चर्चा के लिए करेंगे।’’

इसे भी पढ़ें: यात्रियों की सुरक्षा से नहीं किया जाएगा किसी तरह का समझौता: हरदीप सिंह पुरी

पुरी ने कहा कि सरकार विमानन टरबाइन ईंधन पर ऊंचे कर से चिंतित है। मंत्री ने कहा कि उन्होंने राज्य सरकारों से ईंधन पर से उत्पाद कर को कम करने का अनुरोध किया है। उन्होंने कहा, ‘‘एयरलाइनों के टरबाइन ईंधन कर ज्यादा हैं।

इसे भी पढ़ें: एअर इंडिया बिक्री पर मंत्री समूह की अगुवाई करेंगे अमित शाह

मैं इस बात को लेकर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के संपर्क में हूं कि उत्पाद कर कैसे कम किया जा सकता है। मैंने उत्पाद कर को कम करने के लिए मुख्यमंत्रियों को पत्र लिखा हैं।’’ एयर इंडिया में हिस्सेदारी बेचने के मुद्दे पर पुरी ने कहा कि सरकार का इरादा एयरलाइन को बेचने का है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।