पाकिस्तान अपने अधिकांश सार्वजनिक उद्यमों का निजीकरण करेगा : PM Shehbaz Sharif

 PM Shehbaz Sharif
प्रतिरूप फोटो
official X account

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने यह घोषणा करते हुए कहा कि शुरुआत में केवल घाटे में चल रही सरकारी कंपनियों का निजीकरण किया जाएगा। हालांकि रणनीतिक महत्व वाले सार्वजनिक उद्यमों को निजीकरण प्रक्रिया से बाहर रखने का फैसला किया गया है। पाकिस्तान ने नयी दीर्घकालिक विस्तारित निधि सुविधा के लिए अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष के साथ बातचीत शुरू करने के एक दिन बाद इस बड़े कदम की घोषणा की।

इस्लामाबाद। नकदी संकट से जूझ रहे पाकिस्तान ने घाटे में चल रही पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस सहित अपने अधिकांश सार्वजनिक उद्यमों का निजीकरण करने की मंगलवार को घोषणा की। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने यह घोषणा करते हुए कहा कि शुरुआत में केवल घाटे में चल रही सरकारी कंपनियों का निजीकरण किया जाएगा। हालांकि रणनीतिक महत्व वाले सार्वजनिक उद्यमों को निजीकरण प्रक्रिया से बाहर रखने का फैसला किया गया है। पाकिस्तान ने नयी दीर्घकालिक विस्तारित निधि सुविधा (ईएफएफ) के लिए अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष (आईएमएफ) के साथ बातचीत शुरू करने के एक दिन बाद इस बड़े कदम की घोषणा की। 

इसके तहत रणनीतिक उद्यमों को छोड़कर अन्य सभी सरकारी उद्यमों का निजीकरण किया जाएगा। स्थानीय मीडिया में आई खबरों के मुताबिक, शरीफ ने घाटे में चल रहे सरकारी स्वामित्व वाले उद्यमों (एसओई) के निजीकरण से संबंधित एक समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए यह घोषणा की। जियो न्यूज की एक रिपोर्ट के मुताबिक, पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने बैठक में कहा कि रणनीतिक महत्व के उद्यमों के अलावा अन्य सभी उद्यमों का निजीकरण किया जाएगा। इस दौरान उद्यमों के लाभ या घाटे में चलने के आधार पर कोई भी फर्क नहीं किया जाएगा। शरीफ ने कहा कि सरकार का काम कारोबार करना नहीं है, बल्कि व्यापार और निवेश के लिए अनुकूल माहौल बनाना सरकार की जिम्मेदारी है। 

इसे भी पढ़ें: बीते साल 64 प्रतिशत भारतीय कंपनियां रैनसमवेयर हमलों का शिकार बनीं :Report

उन्होंने इस फैसले पर अमल करने के लिए सभी मंत्रालयों को जरूरी कदम उठाने और निजीकरण आयोग के साथ सहयोग करने का निर्देश दिया। निजीकरण की प्रक्रिया को पारदर्शी बनाने की जरूरत पर जोर देते हुए उन्होंने कहा कि पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस (पीआईए) की निजीकरण प्रक्रिया, बोली और अन्य महत्वपूर्ण कदमों के बारे में पूरी जानकारी टेलीविजन पर दी जाए। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, घाटे में चल रही सरकारी एयरलाइन पीआईए का निजीकरण अपने अंतिम चरण में है। पहले ऐसी चर्चा थी कि पाकिस्तान सिर्फ घाटे में चल रही सरकारी कंपनियों का ही निजीकरण करने की योजना बना रहा है। लेकिन अब इसके दायरे में लाभ में चल रहे सार्वजनिक उद्यम भी शामिल कर दिए गए हैं।

डिस्क्लेमर: प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


We're now on WhatsApp. Click to join.
All the updates here:

अन्य न्यूज़