सरकार के विज्ञान से जुड़े विभागों के बजट में आंशिक वृद्धि

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jul 6 2019 11:16AM
सरकार के विज्ञान से जुड़े विभागों के बजट में आंशिक वृद्धि
Image Source: Google

विज्ञान एवं प्रोद्योगिकी मंत्रालय के तहत आने वाले जैव प्रोद्योगिकी विभाग को 169 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी मिली है। इस बार इसे 2,580 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं जबकि पिछले साल इसे 2,411 करोड़ रुपये आवंटित किए गए थे।

नयी दिल्ली। पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय को 2019-2020 के लिए 1,901 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं। पिछले वित्त वर्ष की आवंटित राशि के मुकाबले इस बार 101 करोड़ रुपये की वृद्धि हुई है। विज्ञान एवं प्रोद्योगिकी मंत्रालय के तहत आने वाले विज्ञान एवं तकनीक विभाग को इस बार 5,880 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं। पिछले वित्त वर्ष 2018-19 में इस विभाग को 5,114 करोड़ रुपये आवंटित किए गए थे। इसमें सबसे ज्यादा 124 करोड़ रुपये का आवंटन नेशनल मिशन ऑन इंटरडिसीप्लीनरी साइबरफिजिकल सिस्टम को किया गया है। मंत्रिमंडल ने पिछले साल इस मल्टी डिसीप्लीनरी प्रोग्राम को मंजूरी दी थी।

इसे भी पढ़ें: ईडी ने सिम्भावली शुगर कंपनी की 110 करोड़ रुपए की संपत्ति कुर्क की

विज्ञान एवं प्रोद्योगिकी मंत्रालय के तहत आने वाले जैव प्रोद्योगिकी विभाग को 169 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी मिली है। इस बार इसे 2,580 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं जबकि पिछले साल इसे 2,411 करोड़ रुपये आवंटित किए गए थे।
वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर) को 4,895 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं। पिछले साल इसे 4,572 करोड़ रुपये आ‍वंटित किए गए थे। देश में वैज्ञानिक अनुसंधान को बढ़ावा देने के लिए इस बजट को बढ़ाने की लगातार मांग हो रही थी। 
 



रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video