राष्ट्रीय खुदरा नीति का मसौदा अगले 10 दिनों में जारी करने की संभावना

possibility-of-issue-of-national-retail-policy-in-next-10-days
कैट के एक बयान के अनुसार अभिषेक ने कहा कि सरकार ने देश के खुदरा व्यापार की जमीनी हकीकत को समझने के लिए सभी स्तरों पर अपना प्रयास किया है और उसी अनुसार नीति व्यापारियों को कठिनाइयों से राहत देने और उन्हें अपने व्यवसाय को एक संगठित तरीके से विकसित करने के लिए तैयार की जा रही है।

नयी दिल्ली। खुदरा व्यापारियों का अखिल भारतीय संगठन कैट ने मंगलवार को कहा कि सरकार राष्ट्रीय खुदरा नीति का मसौदा अगले 10 दिनों में जारी कर सकती है। उस पर संबंधित पक्षों से सुझाव मांगे जाएंगे। उद्योग और आंतरिक व्यापार संवर्द्धन विभाग (डीपीआईआईटी) सचिव रमेश अभिषेक के साथ बैठक के बाद कैट ने यह कहा।

इसे भी पढ़ें: बैंक यूनियन ने की मांग, कर्ज की वसूली के लिए अधिक कड़े नियम लागू किये जाएं

कैट के एक बयान के अनुसार अभिषेक ने कहा कि सरकार ने देश के खुदरा व्यापार की जमीनी हकीकत को समझने के लिए सभी स्तरों पर अपना प्रयास किया है और उसी अनुसार नीति व्यापारियों को कठिनाइयों से राहत देने और उन्हें अपने व्यवसाय को एक संगठित तरीके से विकसित करने के लिए तैयार की जा रही है।

इसे भी पढ़ें: भारत ने G20 देशों से डिजिटल कंपनियों पर कर लगाने के शीघ्र समाधान पर ध्यान देने को कहा

विज्ञप्ति के अनुसार, ‘‘वाणिज्य मंत्रालय की तरफ से राष्ट्रीय खुदरा नीति पर आज (मंगलवार) बुलायी गयी बैठक में डीपीआईआईटी सचिव अभिषेक ने कहा कि राष्ट्रीय खुदरा नीति का मसौदा अगले 10 दिनों में जारी किया जाएगा। उस पर संबंधित पक्षों से सुझाव मांगे जाएंगे।’’ बैठक की अध्यक्षता अभिषेक ने की। कैट के महासचिव प्रवीण खंडेलवाल ने कहा कि उन्होंने आश्वस्त किया कि राष्ट्रीय खुदरा नीति देश में खुदरा कारोबार को दुरूस्त करेगी और कारोबार सुगमता बढ़ेगा।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़