RBI ने बैंक धन जुटाने में आसानी के लिए लीवरेज रेशियो किया कम

rbi-has-reduced-the-capital-ratios-for-easy-funding-of-banks
रिजर्व बैंक ने घरेलू तौर पर व्यवस्थित महत्वपूर्ण बैंकों के लिए लीवरेज रेशियो को कम करके चार प्रतिशत कर दिया है। वहीं अन्य बैंकों के लिए यह साढ़े तीन प्रतिशत होगा।

मुंबई। भारतीय रिजर्व बैंक ने बैंकों को धन जुटाने में आसानी के लिए उनका पूंजी अनुपात (लीवरेज रेशियो) कम कर दिया है। इससे बैंक ज्यादा पूंजी जुटाकर अधिक कर्ज बांटने की स्थिति में होंगे। रिजर्व बैंक ने घरेलू तौर पर व्यवस्थित महत्वपूर्ण बैंकों के लिए लीवरेज रेशियो को कम करके चार प्रतिशत कर दिया है। वहीं अन्य बैंकों के लिए यह साढ़े तीन प्रतिशत होगा।

इसे भी पढ़ें: नीति आयोग की कार्यप्रणाली पर पुनर्विचार करे, फंड आवंटन को शक्ति दें: RBI पूर्व डिप्टी गवर्नर

रिजर्व बैंक ने एक अधिसूचना में कहा कि नयी व्यवस्था एक अक्टूबर 2019 से शुरू होने वाली तिमाही से प्रभावी होगी। लीवरेज रेशियो या पूंजी के अनुपात को बासिल-3 नियमों में स्पष्ट किया गया है। यह किसी भी बैंक के लिए उसके द्वारा बांटे गए ऋण के अनुपात में उसकी कुल टियर-1 पूंजी होती है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़