खुदरा, एफएमसीजी क्षेत्र में सृजित होंगे रोजगार के 2.76 लाख नये अवसर

retail-fmcg-sector-will-generate-2-76-lakh-new-jobs
टीमलीज सर्विसेज के अर्द्धवार्षिक ‘रोजगार परिदृश्य’ रिपोर्ट में कहा गया है कि शुद्ध रोजगार परिदृश्य के मामले में खुदरा क्षेत्र दो प्रतिशत की दर से वृद्धि करेगा और रोजगार के 1.66 लाख नये अवसर जोड़ेगा।

मुंबई। खुदरा तथा ‘रोजमर्रा के इस्तेमाल के उपभोक्ता उत्पाद और टिकाऊ वस्तु (एफएमसीजी एंड डी) क्षेत्रों में चालू वित्त वर्ष के पहले छह महीनों में रोजगार के 2.76 लाख नये अवसर सृजित होने का अनुमान है। एक रिपोर्ट में यह कहा गया है। टीमलीज सर्विसेज के अर्द्धवार्षिक ‘रोजगार परिदृश्य’ रिपोर्ट में कहा गया है कि शुद्ध रोजगार परिदृश्य के मामले में खुदरा क्षेत्र दो प्रतिशत की दर से वृद्धि करेगा और रोजगार के 1.66 लाख नये अवसर जोड़ेगा। इसी तरह एफएमसीजी एंड डी क्षेत्र में एक प्रतिशत की वृद्धि होगी और यह रोजगार के 1.10 लाख नये अवसर जोड़ेगा।

इसे भी पढ़ें: अब विश्व के शीर्ष 50 देशों की सूची में आना हमारा लक्ष्य है : राष्ट्रपति कोविन्द

रिपोर्ट के अनुसार, खुदरा क्षेत्र में दिल्ली 27,560 रोजगार अवसरों के साथ शीर्ष पर रहेगा। इसके बाद 22,770 अवसरों के साथ बेंगलुरू दूसरे स्थान पर रहेगा। इसी तरह एफएमसीजी एंड डी क्षेत्र में 14,770 रोजगार अवसरों के साथ मुंबई शीर्ष पर रहेगा। दिल्ली 10,800 अवसरों के साथ दूसरे स्थान पर रहेगा। रिपोर्ट में कहा गया कि खुदरा क्षेत्र में विदेशी कंपनियों के प्रवेश से रोजगार के ये अवसर सृजित होंगे।

इसे भी पढ़ें: होंडा कार्स अपने वाहनों के दाम 1.2% बढ़ाने पर कर रही है विचार

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़