घरेलू विमानन सेवा का दूसरा दिन: कई उड़ानें रद्द, आंध्र में यात्री सेवाएं शुरु

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 26, 2020   20:10
घरेलू विमानन सेवा का दूसरा दिन: कई उड़ानें रद्द, आंध्र में यात्री सेवाएं शुरु

वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों ने बताया कि मंगलवार को चेन्नई हवाई अड्डा से 20 उड़ानें रवाना होंगी और इतनी ही संख्या में उड़ानें वहां आएंगी। हालांकि नागर विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने रविवार को कहा था कि वहां आने वाली 25 उड़ानों का संचालन हो सकता है जबकि रवाना होने वाली उड़ानों के संबंध में कोई सीमा नहीं है।

नयी दिल्ली। देश भर में घरेलू उड़ान सेवा शुरू होने के दूसरे दिन आंध्र प्रदेश में भी मंगलवार को घरेलू उड़ानों का संचालन शुरू हो गया। राज्य कोविड-19 के बढ़ते मामलों के कारण पहले उड़ानों के संचालन को लेकर थोड़ी हिचकिचाहट दिखा रहा था। दूसरे दिन भी कई उड़ानों को रद्द कर दिया गया जिससे यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा। पश्चिम बंगाल को छोड़कर अब पूरे देश में यात्री सेवाएं शुरु हो गयी हैं। सोमवार की ही तरह मंगलवार को भी कई यात्रियों को हवाई अड्डों पर पहुंचने के बाद पता लगा कि उनकी उड़ानें रद्द हो गयी हैं। ऐसे कई यात्रियों ने सोशल मीडिया पर अपनी नाराजगी जतायी। वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों ने बताया कि मंगलवार को चेन्नई हवाई अड्डा से 20 उड़ानें रवाना होंगी और इतनी ही संख्या में उड़ानें वहां आएंगी। हालांकि नागर विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने रविवार को कहा था कि वहां आने वाली 25 उड़ानों का संचालन हो सकता है जबकि रवाना होने वाली उड़ानों के संबंध में कोई सीमा नहीं है।

आंध्र प्रदेश में विमानन सेवा की शुरुआत मंगलवार को हुयी और अधिकारियों ने कहा कि विजयवाड़ा और विशाखापत्तनम हवाईअड्डों से दिन भर में आठ-आठ उड़ानों का संचालन होगा। अधिकारियों ने बताया कि देश के सबसे बड़े हवाई अड्डे दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा पर मंगलवार को 277 उड़ानों का संचालन होगा। देश के दूसरे सबसे व्यस्त हवाई अड्डे मुंबई पर सोमवार को सिर्फ 47 उड़ानों का संचालन हुआ और मंगलवार को भी यह संख्या समान रहने की संभावना है। पश्चिम बंगाल में घरेलू उड़ानों का संचालन बृहस्पतिवार से शुरू होगा। केंद्र सरकार ने रविवार को घोषणा की थी कि आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल में सोमवार को कोई घरेलू उड़ान नहीं जाएगी जबकि मुंबई, चेन्नई और हैदराबाद हवाईअड्डों से कम उड़ानों का संचालन होगा। पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना और तमिलनाडु ने कोरोना वायरस से संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए घरेलू उड़ानों के सोमवार से शुरु होने के प्रति अनिच्छा जतायी थी। 

इसे भी पढ़ें: देश में दो महीने बाद फिर से शुरू हुईं घरेलू विमान सेवाएं, 630 उड़ानें रद्द हुईं

अधिकारियों ने बताया कि बेंगलुरु से 79 यात्रियों को लेकर पहला विमान सुबह छह बजकर 55 मिनट पर विजयवाड़ा पहुंचा। उन्होंने कहा कि स्पाइसजेट की यह उड़ान वापसी में 68 यात्रियों को लेकर रवाना हुई। विशाखापत्तनम हवाईअड्डे पर पहली उड़ान बेंगलुरु से सुबह सात बजे पहुंची। उन्होंने कहा, “विजयवाड़ा में चार उड़ान इंडिगो के, दो-दो स्पाइसजेट और एअर इंडिया के हैं।” अधिकारियों ने कहा कि विशाखापत्तनम हवाईअड्डे से बुधवार को आठ उड़ानों का संचालन निर्धारित है। कोविड-19 महामारी के कारण करीब दो महीनों तक बंद रहने के बाद भारत में सोमवार से घरेलू उड़ानों का संचालन शुरू हुआ और पहले दिन 532 उड़ानों से 39,231 यात्रियों को उनकी मंजिलों तक पहुंचाया गया। हालांकि करीब 630 उड़ानें रद्द भी हुईं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।