सेंसेक्स 150 अंक, निफ्टी 54 अंक चढ़ा, यस बैंक का शेयर छह प्रतिशत टूटा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 13, 2018   16:51
सेंसेक्स 150 अंक, निफ्टी 54 अंक चढ़ा, यस बैंक का शेयर छह प्रतिशत टूटा

सेंसेक्स की कंपनियों में विप्रो, कोटक बैंक, इन्फोसिस, मारुति, टाटा मोटर्स, एलएंडटी, इंडसइंड बैंक, हीरो मोटोकार्प, एमएंडएम, एसबीआई, ओएनजीसी, एचडीएफसी बैंक और हिंदुस्तान यूनिलीवर तीन प्रतिशत तक चढ़ गए।

 मुंबई। शेयर बाजारों में बृहस्पतिवार को लगातार तीसरे दिन तेजी का रुख रहा। रिजर्व बैंक के नए गवर्नर शक्तिकान्त दास ने सभी हितधारकों को साथ लेकर चलने की बात कही है, जिससे वित्तीय कंपनियों के शेयरों में तेजी दर्ज की गई। विश्लेषकों ने कहा कि रुपये में सुधार और अन्य एशियाई बाजारों के सकारात्मक संकेतों से भी निवेशकों की धारण को बल मिला। बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 150.57 अंक या 0.42 प्रतिशत की बढ़त के साथ 35,929.64 अंक पर बंद हुआ। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 53.95 अंक या 0.50 प्रतिशत की बढ़त के साथ 10,791.55 अंक पर बंद हुआ। 

सेंसेक्स की कंपनियों में विप्रो, कोटक बैंक, इन्फोसिस, मारुति, टाटा मोटर्स, एलएंडटी, इंडसइंड बैंक, हीरो मोटोकार्प, एमएंडएम, एसबीआई, ओएनजीसी, एचडीएफसी बैंक और हिंदुस्तान यूनिलीवर तीन प्रतिशत तक चढ़ गए। वहीं दूसरी ओर यस बैंक के शेयर में बोर्ड की बैठक समाप्त होने के बाद सबसे अधिक छह प्रतिशत की गिरावट आई। बैंक ने कहा कि उसने चेयरमैन पद के उम्मीदवार का चयन कर लिया है और अब इस पर रिजर्व बैंक की अनुमति ली जायेगी। हालांकि, बैंक ने उम्मीदवार के नाम का खुलासा नहीं किया है। अन्य कंपनियों में सनफार्मा, टीसीएस, टाटा स्टील, अडाणी पोर्ट्स और कोल इंडिया के शेयर दो प्रतिशत तक टूट गए। 

यह भी पढ़ें: टाटा मोटर्स की कारें पहली जनवरी से हो जाएंगी 40,000 रुपये तक महंगी

एस्सल म्यूचुअल फंड के सीआईओ विरल बेरावाला ने कहा कि रिजर्व बैंक के नए गवर्नर की सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के प्रमुखों के साथ बैठक के बाद नकदी की स्थिति सुधारने के लिए कुछ ठोस उपायों की उम्मीद में सुबह के कारोबार में बाजार में तेजी आई। हालांकि, बाद में मुनाफावसूली से यह लाभ कुछ सिमट गया। इस बीच, अंतर बैंक विदेशी विनिमय बाजार में कारोबार के दौरान रुपया डॉलर की तुलना में 35 पैसे की बढ़त के साथ 71.66 प्रति डॉलर पर चल रहा था। शेयर बाजारों के अस्थायी आंकड़ों के अनुसार विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने बुधवार को 1,299.43 करोड़ रुपये के शेयर बेचे, वहीं घरेलू संस्थागत निवेशकों ने 1,121.29 करोड़ रुपये की लिवाली की। 





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।