मुनाफावसूली से सेंसेक्स में आठ दिन की तेजी पर ब्रेक, 222 अंक टूटा

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Mar 22 2019 6:09PM
मुनाफावसूली से सेंसेक्स में आठ दिन की तेजी पर ब्रेक, 222 अंक टूटा
Image Source: Google

साप्ताहिक आधार पर सेंसेक्स 140 अंक और निफ्टी 30 अंक मजबूत हुआ। फिच रेटिंग ने शुक्रवार को अगले वित्त वर्ष के लिए देश की आर्थिक वृद्धि दर का अनुमानसात प्रतिशत से घटाकर 6.8 प्रतिशत कर दिया है।

मुंबई। निवेशकों की मुनाफावसूली से सेंसेक्स ने शुक्रवार को आठ लगातार दिन की तेजी खो दी। फिच रेटिंग के देश की आर्थिक वृद्धि दर के अनुमान को कम करने के बाद बाजार में यह गिरावट दर्ज की गयी है। विश्लेषकों ने कहा कि नरम वैश्विक संकेतों तथा कमजोर रुपये ने घरेलू शेयर बाजार पर दबाव डाला। बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक बढ़त में खुला लेकिन बिकवाली के दबाव में 222.14 अंक यानी 0.58 प्रतिशत गिरकर 38,164.61 पर बंद हुआ। इसी तरह एनएसई का निफ्टी भी 64.15 अंक यानी 0.56 प्रतिशत गिरकर 11,456.90 अंक पर आ गया।
भाजपा को जिताए

साप्ताहिक आधार पर सेंसेक्स 140 अंक और निफ्टी 30 अंक मजबूत हुआ। फिच रेटिंग ने शुक्रवार को अगले वित्त वर्ष के लिए देश की आर्थिक वृद्धि दर का अनुमानसात प्रतिशत से घटाकर 6.8 प्रतिशत कर दिया है। सेंसेक्स की कंपनियों में टाटा मोटर्स को सर्वाधिक 2.47 प्रतिशत का नुकसान हुआ। इसके बाद रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर 2.44 प्रतिशत, मारुति सुजुकी का शेयर 1.84 प्रतिशत, भारतीय स्टेट बेंक का शेयर 1.76 प्रतिशत और बजाज फाइनेंस का शेयर 1.23 प्रतिशत गिरा।
 


दूसरी तरफ एनटीपीसी में सर्वाधिक 3.67 प्रतिशत की तेजी रही। इसके अलावा एलएंडटी, एशियन पेंट्स, टाटा स्टील और पावरग्रिड के शेयर 1.54 प्रतिशत तक चढ़ गये। जियोजीत फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘नरम वैश्विक संकेतों तथा पिछले दो दिन की तेजी के बाद निवेशकों की मुनाफावसूली से घरेलू बाजार नरम हुए। अमेरिका के केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व द्वारा इस साल दर नहीं बढ़ाने के संकेत देने, ब्रेक्जिट में देरी तथा अमेरिका और चीन के बीच व्यापार समझौता लगातार टलने से वैश्विक बाजार में अनिश्चितता का माहौल है।’’


शेयर बाजारों के अस्थायी आंकड़ों के अनुसार, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने बुधवार को 1,771.61 करोड़ रुपये की शुद्ध खरीदारी की। एशियाई बाजारों में हांगकांग का हैंग सेंग 0.14 प्रतिशत, चीन का शंघाई कंपोजिट 0.08 प्रतिशत और जापान का निक्की 0.09 प्रतिशत मजबूती में बंद हुआ। यूरोपीय बाजारों में कारोबार के दौरान जर्मनी का फ्रैंकफर्ट डीएएक्स 0.36 प्रतिशत, फ्रांस का पेरिस सीएसी40 ...0.87 प्रतिशत और ब्रिटेन का लंदन एफटीएसई 0.91 प्रतिशत गिरावट में चल रहा था। कच्चा तेल वायदा 1.11 प्रतिशत लुढ़ककर 67.11 डॉलर प्रति बैरल पर था।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video